PM मोदी से शिवसेना की मांग, भारत में भी बैन हो बुर्का, समर्थन में उतरी साध्वी प्रज्ञा

नई दिल्ली। दक्षिण एशियाई देश श्रीलंका (Sri Lanka) में आतंकी हमलों के बाद पूरी दुनिया में हाहाकार मचा हुआ है। इस भीषण हमले के बाद श्रीलंका ने पब्लिक प्लेस पर चेहरा ढकने वाले कपड़ों पर बैन लगा दिया है। मतलब श्रीलंका में अब कोई भी बुर्का या चेहरा ढककर सार्वजनिक स्थान पर नहीं जा सकते हैं। वहीं, अब इस मामले को लेकर भारत में भी सियासत गरमा गई है। शिवसेना (Shiv Sena) ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) से भारत में बुर्का पर बैन लगाने की मांग की है। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल से भारतीय जनता पार्टी (BJP) उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा ने इस मामले में शिवसेना का समर्थन किया है।
पढ़ें- पीएम मोदी: यह नया हिन्‍दुस्‍तान है, हम छेड़ने वालों को घर में घुसकर मारेंगे
बुर्के पर सियासत
शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना के संपादकीय में लिखा है कि फ्रांस में जब आतंकवादी हमले हुए तो वहां की सरकार ने बुर्का पर पाबंदी लगा दी। न्यूजीलैंड, ऑस्ट्रेलिया और ब्रिटेन में भी जब आतंकी हमले हुए तो बुर्का पर पाबंदी लगाई घई। शिवसेना ने सवाल किया कि आखिर इस मामले में भारत क्यों पीछे है? शिवसेना का कहना है कि रावण की लंका में जो हुआ वो राम की अयोध्या में कब होगा? प्रधानमंत्री मोदी आज अयोध्या दौरे पर हैं इसलिए यह सवाल किया जा रहा है। शिवसेना का कहना है कि बम विस्फोट के बाद श्रीलंका में बुर्का और चेहरा ढकनेवाली हर चीज पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए यह निर्णय लिया गया है। पीएम मोदी को भी श्रीलंका के कदमों पर कदम रखते हुए भारत में भी बुर्का और उसी तरह नकाब बंदी करनी चाहिए। शिवसेना का समर्थन करते हुए साध्वी प्रज्ञा ने कहा कि भारत में भी बुर्का और चेहरा ढकने वाली चीजों पर प्रतिबंध लगे।
पढ़ें- भाजपा ने राहुल गांधी की रणनीति में फंसकर विकास का मुद्दा छोड़ा और राष्ट्रवाद अपनाया?
भाजपा ने मांग को खारिज किया
शिवसेना की मांग का भाजपा ने खंडन किया है। भाजपा प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव ने इस संपादकीय पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि इस तरह के बैन की देश में कोई जरूरत नहीं है। भाजपा के कई और नेता इस बयान के खिलाफ हैं।