PM मोदी को ‘सबसे बड़ा झूठा’ कहने पर फंसे सिद्धू, चुनाव आयोग ने गुरुवार शाम तक मांगा जवाब

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव (Loksabha Election) को लेकर सियासी पारा चरम पर है। प्रचार-प्रसार के दौरान नेता एक दूसरे पर जमकर हमला बोल रहे हैं और कई गंभीर आरोप भी लगा रहे हैं। हालांकि, इसका खामियाजा नेताओं को भुगतना भी पड़ रहा है। कई नेताओं के प्रचार पर चुनाव आयोग (Election Commission) ने कई घंटों के लिए प्रतिबंध भी लगाया और जवाब भी मांगा। वहीं, अब कांग्रेस (Congress) नेता नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) पर चुनाव आयोग का डंडा चला है। मोदी को लेकर सिद्धू के द्वारा दिए गए बयान पर आयोग ने गुरुवार शाम छह बजे तक उनसे जवाब मांगा है।
 

Election Commission of India gives notice to Punjab Minister Navjot Singh Sidhu for allegedly making personal remarks against Prime Minister Narendra Modi at a rally in Ahmedabad on April 17. ECI has asked him to reply by 6 pm tomorrow. pic.twitter.com/OmDEjfzHjC— ANI (@ANI) May 1, 2019

सिद्धू को नोटिस
चुनाव आयोग ने बुधवार शाम को नवजोत सिंह सिद्धू को नोटिस जारी किया है। आयोग ने पीएम मोदी को सबसे बड़ा झूठा कहने वाले बयान पर सिद्धू से जवाब मांगा है। गौरतलब है कि गुजरात के अहमदाबाद में कांग्रेस नेता सिद्धू ने चुनावी सभा के दौरान पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए उन्हें सबसे बड़ा झूठा बताया था। सिद्धू कहा था कि गुजरात की भूमि महात्मा गांधी का जन्मस्थान है। इसी भूमि ने ‘सबसे बड़ा झूठा’ प्रधानमंत्री भी दिया है। उन्होंने पीएम को ‘झूठा नंबर 1’ और ‘फेकू नंबर 1’ बताया था। कांग्रेस नेता ने कहा था कि मैं हैरत में हूं कि गुजरात की भूमि ने हमें महात्मा गांधी दिया और इसी ने एक ऐसा प्रधानमंत्री दिया है जो सबसे बड़ा झूठा है। सिद्धू ने यहां तक कहा था कि मोदीजी आप सिर्फ एक प्रतिशत गरीब लोगों के प्रधानमंत्री हैं। आप गरीब नागरिकों के प्रधानमंत्री नहीं हैं। आप इन स्थानीय लोगों से अपनी जमीन खाली करने और कहीं और जाने को कह रहे हैं। इस क्षेत्र में करीब 80 फीसदी स्थानीय लोग अन्य राज्यों में मजदूर के तौर पर काम करते हैं। अब देखना यह है कि चुनाव आयोग को सिद्धू क्या जवाब देते हैं।