Exit Poll के नतीजों को ममता बनर्जी ने बताया EVM में हेरफेर करने का गेम प्लान

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव ( Lok Sabha Election 2019 ) खत्म होते और वास्तविक नतीजों से पहले एग्जिट पोल ( exit poll ) ने नेताओं की धड़कनें बढ़ा दी हैं। जिन्हें एग्जिट पोल में जीत की राह दिख रही है वे तो खुश हैं, लेकिन जिन पार्टियों के लिए अनुमानित नतीजें हार की ओर इशारा कर रहे हैं, वे बौखलाए हुए हैं। एक नजर डालते हैं एग्जिट पोल क्या कहते हैं राजनेता…

I don’t trust Exit Poll gossip. The game plan is to manipulate or replace thousands of EVMs through this gossip. I appeal to all Opposition parties to be united, strong and bold. We will fight this battle together— Mamata Banerjee (@MamataOfficial) May 19, 2019

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और टीएमसी चीफ ममता बनर्जी ने एग्जिट पोल्स को नकार दिया है। उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि मैं एग्जिट पोल गॉसिप पर भरोसा नहीं करती हूं। इस गॉसिप के जरिए हजारों EVM में हेरफेर करने या बदलने का गेम प्लान है। मैं सभी विपक्षी दलों से एकजुट, मजबूत और निर्भीक होने की अपील करती हूं। हम इस लड़ाई को मिलकर लड़ेंगे।

Every single exit poll can’t be wrong! Time to switch off the TV, log out of social media & wait to see if the world is still spinning on its axis on the 23rd.— Omar Abdullah (@OmarAbdullah) May 19, 2019

एग्जिट पोल पर जम्मू कश्मीर के पूर्व सीएम और नेशनल कॉन्फ्रेंस नेता उमर अब्दुल्ला ने इशारे इशारे में मोदी सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि हर एक एग्जिट पोल गलत नहीं होता है! अभी टीवी बंद करने और सोशल मीडिया से लॉग आउट करने का समय है। यह देखने के लिए इंतजार करें कि क्या दुनिया अभी भी 23 तक पर अपनी धुरी पर घूम रही है।

Exit Poll होता है। उपभोक्ता वर्ग की पार्टी को जीतते दिखाना उनकी व्यवसायिक मजबूरी है। अगर उपभोक्ता वर्ग की पार्टी हारती है तो लोग निराशा में टीवी ही बंद कर देंगे। टीवी बंद तो TRP डाउन। Exit Poll पर उनका जोश और परिणाम की यह भी एक वजह है— Rashtriya Janata Dal (@RJDforIndia) May 19, 2019

आरजेडी ने एग्जिट पोल के नतीजों को टीवी की मजबूरी बताते हुए खारिज कर दिया है। राष्ट्रीय जनता दल के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से कहा गया कि Exit Poll होता है। उपभोक्ता वर्ग की पार्टी को जीतते दिखाना उनकी व्यवसायिक मजबूरी है। अगर उपभोक्ता वर्ग की पार्टी हारती है तो लोग निराशा में टीवी ही बंद कर देंगे। टीवी बंद तो TRP डाउन। Exit Poll पर उनका जोश और परिणाम की यह भी एक वजह है।

TV के वैज्ञानिकों अगर थोड़ी शर्म हो तो 2004 का EXIT Poll याद कर लेना, 2013, 2015 में दिल्ली विधान पर अपना EXIT Poll याद कर लेना, छत्तीसगढ़ मध्य प्रदेश राजस्थान पर अपना EXIT Poll याद कर लेना 2019 में भी आपका BJP जिताओ अभियान फ़ेल साबित होगा। https://t.co/8OlpeDaCJy— Sanjay Singh AAP (@SanjayAzadSln) May 19, 2019

आम आदमी पार्टी नेता और राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने भी एग्जिट पोल पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा कि TV के वैज्ञानिकों अगर थोड़ी शर्म हो तो 2004 का EXIT Poll याद कर लेना। 2013, 2015 में दिल्ली विधान पर अपना EXIT Poll याद कर लेना, छत्तीसगढ़ मध्य प्रदेश राजस्थान पर अपना EXIT Poll याद कर लेना 2019 में भी आपका BJP जिताओ अभियान फेल साबित होगा।

23 मई तक सारे “चैनल” फिर मोदी मोदी चिल्लायेंगे, बहाना तो “एग्ज़िट” पोल का होगा, लेकिन सच बात ये है, कि सब के सब “ग़ुलामी” का “धर्म” निभाने को “बेताब” हैं.— Acharya Pramod (@AcharyaPramodk) May 19, 2019

लखनऊ से कांग्रेस प्रत्याशी आचार्य प्रमोद कृष्णम ने ट्वीट कर कहा कि 23 मई तक सारे ‘चैनल’ फिर मोदी मोदी चिल्लायेंगे, बहाना तो ‘एग्जिट’ पोल का होगा, लेकिन सच बात ये है, कि सब के सब ‘ग़ुलामी’ का ‘धर्म’ निभाने को ‘बेताब’ हैं।क्या कहता है 2019 का एग्जिट पोल
2019 लोकसभा चुनाव के लिए रविवार की शाम आए एग्जिट पोल के मुताबिक देश में एकबार फिर केंद्र की सत्ता में एनडीए की सरकार बनेगी। सात चरणों में हुए लोकसभा चुनाव के वास्तविक नतीजे 23 मई को आएंगे।