BJP ने EC से की राहुल और ममता की शिकायत, पश्चिम बंगाल को संवेदनशील राज्य घोषित करने की मांग की

नई दिल्‍ली। भारतीय जनता पार्टी का एक प्रतिनिधिमंडल बुधवार को चुनाव आयोग के अधिकारियों से मिला। मुलाकात के दौरान भाजपा ने चुनाव आयोग से कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी और ममता सरकार की शिकायत की। कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने आयोग से अहमदाबाद रैली में राहुल गांधी की ओर से पीएम मोदी के खिलाफ जारी बयान को गंभीरता से लेने को कहा। साथ ही लोकसभा चुनाव के दौरान पश्चिम बंगाल को संवेदनशील राज्य घोषित करने की भी मांग की।
मैं, उनके बयान को दोहरा नहीं सकता केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने ईसी से कहा कि अहमदाबाद की रैली में राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री के बारे में बोला कि उन्‍होंने रफाल डील में देश का पैसा अंबानी के जेब में डाल दिया। मैं, इसे दोहरा भी नहीं सकता। उनका ये बयान निंदनीय है।
भारत मसूद अजहर के खिलाफ UNSC में सौंपेगा दमदार सबूत, साथ देने को मजबूर होगा चीन
टीएमसी कैडर के रूप में काम करते हैं चुनाव अधिकारी भाजपा ने पश्चिम बंगाल में चुनाव ड्यूटी पर तैनात अफसरों की एक सूची भी चुनाव आयोग को सौंपी है। पार्टी ने दावा किया है कि चुनाव के दौरान ये अधिकारी टीएमसी कैडर के रूप में काम करते हैं। इसके अलावा भाजपा ने चुनाव आयोग से कोलकाता के पूर्व पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार को चुनावी ड्यूटी से हटाने की भी मांग की है।
मनोहर पर्रिकर के बेटे अभिजात ने बॉम्‍बे हाईकोर्ट से कहा- ‘मेरे खिलाफ दायर याचिका राजनीति से प्रेरित’
टीएमसी को चुनावी मात देने की रणनीति चुनाव आयोग के अधिकारियों से मिलने वाले भाजपा प्रतिनिधिमंडल में रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण, कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद, पार्टी के महासचिव और पश्चिम बंगाल प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय समेत कई नेता शामिल थे। बता दें कि पश्चिम बंगाल में इस बार सीधी जंग भाजपा बनाम टीएमसी के बीच है। भाजपा का लक्ष्‍य पश्चिम बंगाल में 20 से अधिक लोकसभा सीटों पर जीत हासिल करने की है। यही कारण है कि चुनाव प्रचार, जन संपर्क से लेकर हर मामले में भाजपा का रुख ममता सरकार को चुनावी मात देने की है।

Union Minister Ravi Shankar Prasad after bjp delegation meeting with Election Commission in Delhi today: We have demanded that the state of West Bengal should be declared as super-sensitive state. We’ve also demanded that central forces should be deployed at all polling booths. pic.twitter.com/PQSp60dIQl— ANI (@ANI) March 13, 2019