सरकार और सेना के खिलाफ सिद्धू का बड़ा बयान, कहा- अन्य संस्थानों की तरह डरी हुई है भारतीय सेना

नई दिल्ली। बयानों को लेकर चर्चा में रहने वाले कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने एक बार फिर चौंकाने वाला बयान दिया है। सिद्धू ने एयर स्ट्राइक पर फिर सवाल उठाते हुए कहा कि शहादत का बदला आतंकियों से लेना था, पेड़ और पहाड़ों से नहीं। सिद्धू के इस बयान के बाद सियासत एक बार फिर गरमा गई है।
सिद्धू ने सरकार और सेना को लेकर दिया बड़ा बयान
सिद्धू यहीं नहीं रुके, उन्होंने कहा कि भारतीय सेना भी अन्य संस्थानों की तरह डरी हुई है। सिद्धू बार-बार सरकार से आकंड़े जारी करने के लिए कह रहे हैं। गौरतलब है कि एक दिन पहले भी सिद्धू ने एयर स्ट्राइक पर सवाल उठाए थे। सिद्धू ने ट्वीट किया था कि क्या वहां 300 आतंकी मारे गए हैं या नहीं? अगर नहीं तो इसका क्या मकसद था? क्या सिर्फ पेड़ उखाड़ने ही गए थे। नवजोत सिंह सिद्धू ने लिखा कि क्या वहां आतंकी मारने गए थे या फिर पेड़ उखाड़ने गए थे। क्या ये सिर्फ एक चुनावी नौटंकी थी। उन्होंने लिखा कि सेना का राजनीतिकरण करना बंद करिए, जितना देश पवित्र है उतनी ही सेना भी पवित्र है। ऊंची दुकान, फीका पकवान।
एक दिन पहले भी सिद्धू ने दिया था ऐसा बयान
गौरतलब है कि सिद्धू ने इस ट्वीट के अलावा एक वीडियो भी ट्वीट किया था, जिसमें बालाकोट के कुछ स्थानीय निवासी कह रहे हैं कि वहां कुछ भी नहीं हुआ है। आपको बता दें कि एयर स्ट्राइक को लेकर देश में राजनीति चरम पर है। विपक्ष सरकार से लगातार आकंड़े मांग रही है। वहीं, मंगलवार को केन्द्रीय मंत्री वीके सिंह ने भी साफ कहा कि करीब 250 आतंकियों के मारे जाने का अनुमान है। इधर, असम में केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने भी कहा है कि एयर स्ट्राइक में तीन सौ आतंकी मारे गए हैं।