सपा-बसपा ने बदली BJP की रणनीति: राजनाथ गौतम बुद्ध नगर से, तो महेश शर्मा अलवर से लड़ सकते हैं चुनाव

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव से पहले बीजेपी अपने कई मौजूदा सांसदों की सीट बदलने की तैयारी में है। इसी कड़ी में लखनऊ से सांसद गृहमंत्री राजनाथ सिंह को गौतमबुद्ध नगर से चुनावी मैदान में उतारा जा सकता है। वहीं गौतमबुद्ध नगर से मौजूदा सांसद केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा को राजस्थान के अलवर भेजा जा सकता है। खबर है कि बीजेपी ने ये फैसला संसदीय क्षेत्र में एक आतंरिक सर्वे के बाद किया है।
बीजेपी आलाकमान ने खुद लिया फैसला
बीजेपी के सूत्र के मुताबिक बड़े नेताओं की सीट बदलने का फैसला खुद बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने लिया है। दरअसल उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी गठबंधन ने बीजेपी के माथे पर पसीने ला दिए हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह ने सत्ता विरोधी लहर से पार पाने के लिए कई मौजूदा सदस्यों को नई सीट से टिकट देने का फॉर्मूले अपना रहे हैं।
राहुल गांधी का मोदी पर तंज, देशभक्ति की बात करने वाले बताएं मसूद अजहर को किसने छोड़ा
2009 में राजनाथ से गौतमबुद्ध नगर आने की थी चर्चा
बताया जा रहा है कि राजनाथ सिंह को 2009 लोकसभा चुनाव में गौतम बुद्ध नगर से चुनाव लड़ने की सलाह दी गई थी, लेकिन उन्होंने गाजियाबाद से चुनाव लड़ा। 2014 लोकसभा चुनाव में पार्टी ने लखनऊ से उन्हें चुनाव लड़वाया, जिस सीट का प्रतिनिधित्व पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी करते थे। 2019 में सपा-बसपा गठबंधन में गौतमबुद्ध नगर बसपा के पास है। इस सीट पर गठबंधन से सतवीर नागर चुनाव लड़ेंगे।
शर्मा से नाराज हैं ग्रामीण मतदाता
महेश शर्मा की सीट बदलने की दूसरी वजह मतदाताओं की नाराजगी भी बताई जा रही है। सूत्र बताते हैं कि पार्टी के सर्वेक्षण में यहां के ग्रामीण इलाकों में शर्मा के प्रति गुस्सा है। इसलिए पार्टी पेशे से डॉक्टर शर्मा को अलवर सीट से चुनाव लड़वाने की सोच रही है। उनका जन्म अलवर के मनेठी गांव में ही हुआ था।