शत्रुघ्न सिन्हा का बड़ा ऐलान, किसी भी परिस्थिति में पटना साहिब से ही लडूंगा लोकसभा चुनाव

नई दिल्ली। आम चुनाव करीब है और राजनीतिक दलों में सियासी जंग शुरू हो चुका है। साथ ही कुछ राजनीतिक पार्टियों से लेकर कुछ नेताओं के पाला बदलने का सिलसिला भी जारी है। इसी कड़ी में भाजपा के बागी नेता और सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने एक बड़ा बयान दिया है। शत्रु ने ऐलान करते हुए कि वे किसी भी परिस्थिति में पटना साहिब से ही चुनाव लड़ेंगे। पार्टी लाइन से अलग जाकर हमेशा अपनी बात रखने वाले शत्रु ने रविवार को कहा कि अपनी संसदीय सीट नहीं बदलेंगे। परिस्थिति चाहे जैसे भी हो वे पटना साहिब से ही लोकसभा चुनाव लड़ेंगे।
नितिन गडकरी ने भाजपा सांसद को सौंपी बड़ी जिम्मेदारी, कहां- इस राज्य के सीएम से करें बात, एग्रीमेंट है तैयार
समाजवादी पार्टी से लड़ सकते हैं चुनाव?
आपको बता दें कि सियासी गलियारों में यह कयास लगाए जा रहे हैं शत्रुघ्न सिन्हा आम चुनाव से ठीक पहले भाजपा का दामन छोड़ सकते हैं और सपा या फिर आम आदमी पार्टी में शामिल हो सकते हैं। क्योंकि पिछले समय में देखें तो ऐसे कई मौके आए हैं जब शत्रु ने पार्टी लाइन से बाहर जाकर अपनी बात रखी है। साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना की है। विपक्ष के मंच को साझा करते हुए केंद्र सरकार की नीतियों और योजनाओं की आलोचना भी कर चुके हैं। लिहाजा अब यह बातें सामने आने लगी है कि शत्रु भाजपा को छोड़कर समाजवादी पार्टी या फिर आम आदमी पार्टी में शामिल हो सकते हैं। इस बात की संभावना ज्यादा नजर आ रही है कि शत्रु समाजवादी पार्टी से चुनाव लड़ सकते हैं। अभी कुछ दिन पहले ही लखनऊ में सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव से शत्रु ने मुलाकात की थी। जिसके बाद से ये चर्चाएं जोरों पर है। बता दें कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साथ भी बीते दिनों शत्रु मंच साझा कर चुके हैं। इसके अलावा कोलकाता में ममता बनर्जी के मंच पर भी शत्रु दिखाई दिए थे।
भाजपा को झटका, इन नेताओं ने सैकड़ों समर्थकों संग थामा सपा का दामन
पटना साहिब से रविशंकर प्रसाद को मिल सकता है टिकट
आपको बता दें कि बीते महीने एक खबर सामने आई थी कि भाजपा शत्रुघ्न सिन्हा को आगामी लोकसभा चुनाव में टिकट नहीं देगी। शत्रुघ्न सिन्हा की सीट पटना साहिब से इस बार केद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद को टिकट दिया जा सकता है। इस बात की प्रबल संभावना भी नजर आ रही है। क्योंकि शत्रु कई मंचों पर भाजपा की आलोचना कर चुके हैंष लिहाजा पार्टी उन्हें टिकट से वंचित कर सकती है। हालांकि शत्रु ने कई मौकों पर यह कहा कि यदि आलाकमान चाहे तो उन्हें पार्टी से निलंबित कर सकते हैं, उन्हें निकाल सकते हैं, लेकिन वे खुद पार्टी नहीं छोड़ेंगे।
 
Read the Latest India news hindi on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले India news पत्रिका डॉट कॉम पर.