लोकसभा चुनाव : AAP सांसद संजय सिंह का बड़ा बयान, दिल्ली में कांग्रेस से गठबंधन नहीं

नई दिल्ली: दिल्ली में कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के बीच गठबंधन को लेकर जारी सस्पेंस आखिरकार खत्म हो गया । अरविंद केजरीवाल कांग्रेस पार्टी के साथ गठबंधन करने से इनकार कर दिया। राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने कहा कि दिल्ली में कांग्रेस से गठबंधन नहीं होगा । कांग्रेस की गठबंधन की शर्तें अव्यवहारिक थीं। संजय सिंह ने कहा कि पंजाब में हमारे 4 सांसद हैं और 20 विधायक लेकिन कांग्रेस वहां साथ लड़ना नहीं चाहती, ना ही हरियाणा , चंडीगढ़ और गोवा में साथ लड़ने के मूड में है। वहीं दिल्ली में 3 सीट मांग रही है। जबकि यहां उनके एक भी सांसद या विधायक नहीं है। ऐसे में कांग्रेस के साथ चुनाव लड़ना संभव नहीं है।
ये भी पढ़ें: सोनिया गांधी का पीएम मोदी पर हमला- आज हमें देशभक्ति की नई परिभाषा सिखाई जा रही

AAP MP Sanjay Singh on alliance with Congress: In Punjab, we’ve 4 MPs&20 MLAs&Congress doesn’t want to share seat there;same situation is in Haryana, Goa&Chandigarh. In Delhi,where they don’t have any MLA or MP,they’re demanding 3 seats. So, this alliance is not possible. pic.twitter.com/N3D5nwEfBb— ANI (@ANI) April 10, 2019

आप ने कांग्रेस के सामने रखी थी शर्तें
गौरतलब है कि आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कांग्रेस के सामने नई शर्त रखी थीं। आम आदमी पार्टी ने राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कांग्रेस के साथ गठबंधन करने के लिए शर्त रखते हुए कहा है कि पार्टी कांग्रेस के साथ तभी चुनावी गठबंधन करेगी जब हरियाणा और चंडीगढ़ में भी दोनों दल मिल कर चुनाव लड़ें और आप की दिल्ली को पूर्ण राज्य के दर्जे की मांग को कांग्रेस समर्थन करें।
शीला दीक्षित गठबंधन के पक्ष में नहीं
गौरतलब है कि दिल्ली की कांग्रेस अध्यक्ष शीला दीक्षित शुरू से दिल्ली में आम आदमी पार्टी के साथ गठबंधन के खिलाफ रही हैं। लेकिन दिल्ली के प्रभारी पीसी चाको ने आम आदमी पार्टी के साथ गठबंधन करने के संकेत दिए थे। इसको लेकर पिछले कुछ समय से दिल्ली के सियासी गलियारों सियासी घमासान छिड़ा हुआ था। लेकिन आम आदमी पार्टी के संकेत के बाद सस्पेंस पूरी तरह से खत्म हो गया।