लोकसभा चुनाव 2019 में नेताओं के हमशक्लों का बोलबाला

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव के छठे चरण के लिए आज मतदान हो रहा है। इसके बाद केवल एक चरण के लिए मतदान कराया जाना है। 12 मई यानी आज राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की सभी सात सीटों पर वोटिंग हो रही है। दिल्ली का चुनाव इस बार कई मायनों में काफी अहम रहा। एक ओर जहां ऐन मौके तक कांग्रेस और आप के गठबंधन की चर्चाएं चलती रहीं तो इस बार राजधानी में खिलाड़ी से लेकर अभिनेता तक चुनावी मैदान में ताल ठोक रहे हैं। दिल्ली के चुनाव में सबसे अधिक सुर्खियों में रहने का श्रेय भाजपा प्रत्याशी गौतम गंभीर को जाता है। दरअसल, उन पर आपत्तिजनक पर्चे बंटवाने से लेकर चुनाव प्रचार के लिए अपने हमशक्ल का इस्तेमाल करने का आरोप है। दिल्ली के उप मुख्यमंत्री और आप नेता मनीष सिसोदिया ने उन पर आरोप लगाया है कि गंभीर खुद कार में बैठे रहते हैं और अपने हमशक्ल से प्रचार कराते हैं। गौरतलब है कि चुनाव में कई नेताओं के हमशक्ल लोगों के बीच देखें गए हैं। आइए जानते हैं कुछ ऐसी ही हमशक्लों के बारे में—
गौतम गंभीर बनाम गौरव अरोड़ा
ताजा मामला गौतम गंभीर से जुड़ा है। दिल्ली के चुनाव में गौतम गंभीर का डुप्लीकेट देखा गया है। उसका नाम गौरव अरोड़ा बताया जा रहा है। चर्चा तो यहां तक है कि गौरव कांग्रेस का कार्यकर्ता है। आम आदमी पार्टी ने हमशक्ल को लेकर गौतम गंभीर पर तंज भी कसा है। आप नेता मनीष सिसोदिया ने कहा है कि ये कांग्रेस और भाजपा की महामिलावट है। उन्होंने कहा कि गर्मी व धूप के कारण गौतम गम्भीर एसी गाड़ी में नीचे रहते हैं और उनकी जगह उनका हमशक्ल कैप लगाकर खड़ा रहता है।
योगी आदित्यानाथ बनाम चोपड़ा योगी
ऐसा ही एक हमशक्ल उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का भी है। चोपड़ा योगी नाम का यह शख्स हू-ब-हू योगी आदित्यनाथ की तरह दिखता है। यहां तक कि वह वेशभूषा भी सीएम योगी की ही तरह ही धारण कर रखता है। चोपड़ा योगी भाजपा उम्मीदवारों के समर्थन में जनसभाओं को भी संबोधित करते हैं।छत्तीसगढ़ के रहने वाली चोपड़ा योगी की कद काठी भी बिल्कुल सीएम योगी आदित्यनाथ की तरह है। कई बार लोग उनको पहचानने में बड़ी भूल कर देते हैं।
नरेंद्र मोदी बनाम अभिनंदन त्रिपाठी
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हमशक्ल अभिनंदन त्रिपाठी भी पिछले दिनों खूब चर्चाओं में रहे। हालांकि शुरुआत में वह पीएम मोदी के बड़े समर्थक थे, लेकिन बाद में वह उनके आलोचक हो गए और कांग्रेसी नेताओं के साथ दिखाई थी। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ उनका फोटो खूब वायरल हुआ था। यहां तक कि उन्होंने लखनऊ सीट से राजनाथ सिंह सामने चुनाव लड़ने तक भी घोषणा कर दी थी। लेकिन नामांकन में गलतियां होने के कारण उनका पर्चा निरस्त हो गया।