लोकसभा चुनाव: ‘शिवहर’ सीट को लेकर बिहार महागठबंधन में बवाल, कांग्रेस नेता लवली आनंद हुईं बागी

नई दिल्ली। महागठबंधन ने बिहार में सीटों का ऐलान कर दिया है। इस घोषणा के बाद प्रदेश की राजनीति में सियासी भूचाल आ गया है। कुछ नेता टिकट नहीं मिलने से नाराज हैं, तो कुछ सीटों की अदला-बदली को लेकर बवाल काट रहे हैं। वहीं, शिवहर सीट को लेकर कांग्रेसी नेता लवली आनंद ने बड़ा ऐलान कर दिया है। उन्होंने साफ कहा है कि वह शिवहर सीट से ही निर्दलीय चुनाव लड़ेंगी।
आरजेडी के खाते में शिवहर सीट
दरअसल, महागठबंधन के तहत शिवहर सीट आरजेडी के खाते में गई है। हालांकि, आरजेडी ने अभी तक इस सीट पर अपने उम्मीदवार की घोषणा नहीं की है। लेकिन, कांग्रेस नेता लवली आनंद ने इस सीट को लेकर बागी तेवर अख्तियार कर लिया है। उन्होंने कहा कि वह इसी लोकसभा सीट से निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ेंगी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, लवली आनंद ने दावा किया है कि शिवहर लोकसभा सीट पैसे के बल पर खरीदी गयी है। उन्होंने साफ कहा कि मैं शिवहर से निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर चुनाव मैदान में उतरकर वहां की जतना का सम्मान करूंगी।
लवली आनंद ने लगाए काफी गंभीर आरोप
लवली आनंद ने आगे कहा कि शिवहर सीट से उनके पति आनंद मोहन दो बार सांसद रह चुके हैं। वह खुद भी बहुत कम वोटों से चुनाव हारी थीं। उन्होंने कहा कि अब मैं शिवहर की जनता के सामने जाऊंगी और वही तय करेंगे कि पैसे से खरीदे जाने वाले प्रत्याशी को वोट दें या जो नेता वहां की जमीन से जुड़ा हुआ है, उसे वोट दें। हालांकि, कांग्रेस हाईकमान की ओर से अभी तक इस मामले में कोई बयान नहीं आया है। लेकिन, लवली आनंद के कारण बिहार महागठबंधन में जरूर हंगामा मच गया है।