लोकसभा चुनाव में बहुमत के सवाल पर बोले भाजपा महासचिव राम माधव, बातों को तोड़ा गया

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव में हो रहे तमाम आरोप-प्रत्यारोप के बीच भारतीय जनता पार्टी (BJP) के महासचिव राम माधव के बहुमत न मिलने वाले कथित बयान ने राजनीतिक पारा बढ़ा दिया था। लेकिन अब एक अन्य चैनल को दिए इंटरव्यू में राम माधव ने कहा कि उनकी बातों को तोड़ा गया ताकि हेडलाइन बन सके। माधव ने बताया कि समूचे देश में मोदी लहर है, इसका पूरी तरह से फायदा भाजपा को मिलेगा और पार्टी फिर जीतने जा रही है।
इस लोकसभा चुनाव में इन 20 हॉट सीटों पर रहेगी सबकी नजर
राम माधव ने कहा कि उनके पहले इंटरव्यू के दौरान बातों को तोड़ा गया। माधव के मुताबिक पार्टी मोदी जी के नेतृत्व में सरकार बनाने जा रही है। उन्होंने भरोसा जताया कि वे पहले से बेहतर जीत हासिल करेंगे। पूरब में मोदी जी को जिस प्रकार का समर्थन मिला है, उस हिसाब से कहा जा सकता है कि वहां भी पहले से ज्यादा सीटें मिलेंगी। नागरिकता बिल के चलते भी चुनावी फायदा मिलेगा। 23 मई के बाद राम माधव कहां पर होंगे, इस पर उन्होंने कहा कि वह भाजपा में ही हैं और भाजपा में ही रहेंगे।

#WATCH Ram Madhav , BJP: Based on the ground report that we get from our cadres, BJP will be able to do as good as it has done in 2014 if not better. And together with NDA we will be having a good majority to run another stable govt. pic.twitter.com/P3gadxSmjJ— ANI (@ANI) May 7, 2019

माधव की मानें तो तेलंगाना और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री देश में किंगमेकर बनने का सपना देखते हैं। उनके लिए कहूंगा कि हमें किंगमेकर की जरूरत क्यों पड़ेगी जब हमारे पास किंग है। हम अपने दम पर सरकार बनाएंगे और किसी दल की जरूरत नहीं होगी।
वो 10 राजनेता जो आजतक कोई भी लोकसभा चुनाव नहीं हारे
राम मंदिर के मुद्दे पर राम माधव का कहना है कि भाजपा शुरुआत से ही मंदिर बनाने के पक्ष में है, लेकिन यह मामला सुप्रीम कोर्ट में है। अदालत जल्द इस मामले पर सुनवाई करेगी। सरकार जमीन वापसी के लिए सुप्रीम कोर्ट में गई है और जिस दिन अदालत राम मंदिर निर्माण की अनुमति देगी, उस दिन से ही निर्माण शुरू हो जाएगा।वहीं, पश्चिम बंगाल में राम माधव ने ध्रुवीकरण की बात को मानते हुए कहा कि वहां पर ममता बनर्जी की तानाशाही चलती है। हालांकि भाजपा का वहां पर विकास आधारित लक्ष्य है। भाजपा के विकास आधारित लक्ष्य और ममता की तानाशाही के बीच ध्रुवीकरण है। ममता ने न तो पीएम मोदी के फोन का उत्तर दिया और ना ही समीक्षा बैठक की। इससे साफ जाहिर है कि वह इस पर भी सियासत कर रही हैं।
लोकसभा चुनाव 2019: इन 7 सीटों पर है दिलचस्प मुकाबला, आपको होनी चाहिए जानकारी
पीएम मोदी के राजीव गांधी पर दिए बयान को लेकर राम माधव ने कहा कि जब झूठे आतंक को लेकर कांग्रेस प्रचार कर सकती है, तो क्या भाजपा बोफोर्स घोटाले की बात का प्रचार नहीं कर सकती? चुनाव में जब भी पार्टी कांग्रेस के घोटालों का जिक्र करती है तो बिना बोफोर्स का नाम लिए यह कैसे हो सकता है?
Indian Politics जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..
Lok sabha election Result 2019 से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए Download patrika Hindi News App.