लोकसभा चुनाव: भाजपा ने दिल्ली की सभी सीटों पर तय किए प्रत्याशी, नामों का एलान जल्द

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव के लिए पहले फेज के मतदान को होने में अब बस दो हफ्ते के करीब समय रह गया है और उससे पहले सभी राजनीतिक दल जिताऊ उम्मीदवारों की तलाश करते हुए विरोधियों के खिलाफ मैदान में उन्हें उतार रही है। इसी कड़ी में भाजपा ने राजधानी दिल्ली के लिए सभी सातों सीटों के लिए अपने प्रत्याशियों का चयन कर लिया है। हालांकि अभी उनके नाम का एलान नहीं किया गया है। बताया जा रहा है कि उम्मीदवारों के नाम को शॉर्टलिस्ट करके राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को भेज दिया गया है। अब शाह से अंतिम मुहर लगने के बाद ही प्रत्याशियों के नाम की घोषणा की जाएगी। ऐसा माना जा रहा है कि भाजपा दिल्ली में आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के बीच संभावित गठबंधन का इंजतार कर रही है। यदि दोनों दलों के बीच गठबंधन होता है तो ऐसे में भाजपा नई रणनीति के तहत प्रत्याशियों का चयन कर उन्हें मैदान में उतार सकती है। मालूम हो कि मौजूदा समय में दिल्ली की सभी सातों सीटों पर भाजपा का कब्जा है।
 लोकसभा चुनाव 2019: कांग्रेस ने 31 उम्मीदवारों की सूची जारी की, सीएम अशोक गहलोत के बेटे को मिला टिकट
भाजपा के संभावित उम्मीदवार
बता दें कि सूत्रों के हवाले से जो जानकारी निकलकर सामने आई है उसके मुताबिक नई दिल्ली सीट से भाजपा तीन चेहरों में से एक पर दांव लगा सकती है। इसमें मीनाक्षी लेखी, क्रिकेटर गौतम गंभीर और सतीश उपाध्याय हो सकते हैं। तो वहीं पूर्वी दिल्ली से महेश गिरि या डॉ. हर्षवर्धन का नाम हो सकता है। उत्तर पूर्व दिल्ली से मनोज तिवारी या फिर आईपीएस दीपक मिश्रा को टिकट दिया जा सकता है। दक्षिणी दिल्ली की बात करें तो रमेश बिधूड़ी और पश्चिम दिल्ली सीट से कमलजीत शेरावत, प्रवेश वर्मा या आरपी सिंह में से किसी एक को टिकट दिया जा सकता है। चांदनी चौक से विजय गोयल या विजेंद्र गुप्ता को मैदान में उतारा जा सकता है। उत्तर पश्चिम दिल्ली की बात करें तो उदित राज, अशोक प्रधान या अनीता आर्या में से किसी एक को उम्मीदवार बनाया जा सकता है। हालांकि यह संभावित उम्मीदवार हैं और कांग्रेस एवं आप के बीच गठबंधन के बाद इसमें परिवर्तन किया जा सकता है।
लोकसभा चुनाव 2019 से पहले भाजपा के लिए ये बुरी खबर, सबसे अहम वोटर हुआ नाराज
12 मई को दिल्ली में होगा मतदान
बता दें कि राजधानी दिल्ली की सभी सातों सीटों पर 12 मई को छठे चरण में वोटिंग होगी। इससे पहले भाजपा को रोकने के लिए आम आदमी पार्टी पूरी कोशिश कर रही है। आम आदमी पार्टी चाहती है कि यदि कांग्रेस के साथ गठबंधन हो जाए तो भाजपा को सभी सातों सीटों पर हराया जा सकता है। फिलहाल गठबंधन को लेकर अभी कोई औपचारिक घोषणा नहीं की गई है लेकिन दोनों पार्टियों की ओर गठबंधन के लिए रास्ते तलाशे जा रहे हैं। लेकिन इन सबके बीच आम आदमी पार्टी ने सातों सीटों पर अपने उम्मीदवारों के नाम की घोषणा कर दी है। हालांकि यदि दोनों के बीच गठबंधन होता है तो नए सिरे से उम्मीदवारों की घोषणा की जाएगी।
 
Read the Latest India news hindi on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले India news पत्रिका डॉट कॉम पर.