लोकसभा चुनाव: भाजपा छोड़ फिर कांग्रेस में शामिल हुईं कृष्णा तीरथ, मनमोहन सरकार में रह चुकी थीं मंत्री

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव के लिए पहले चरण का मतदान हो चुका है। सभी पार्टियों ने इस चुनाव में पूरी ताकत झोंक दी है। लेकिन, गठबंधन और अवसरवादी राजनीति अब भी जारी है। दल-बदल की राजनीति में भाजपा को एक बार फिर झटका लगा है। पूर्व केन्द्रीय मंत्री कृष्णा तीरथ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को छोड़ एक बार फिर कांग्रेस में शामिल हो गई हैं।
कृष्णा तीरथ की घर वापसी
कृष्णा तीरथ ने शक्रवार को दिल्ली स्थित कांग्रेस मुख्यालय में पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने तीरथ को पार्टी की सदस्यता दिलाई। गौरतलब है कि 2015 में तीरथ ने भाजपा का दामन थामा था। पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने खुद उन्हें भाजपा में शामिल कराया था। लेकिन, तीरथ ने एक बार फिर घर वापसी कर ली है। गौरतलब है कि कृष्णा तीरथ दिल्ली की सुरक्षित सीटों से दो बार सांसद रह चुकी हैं, UPA-2 में कृष्णा तीरथ महिला और बाल विकास मंत्री थीं। भाजपा में शामिल होने के बाद कृष्णा तीरथ ने दिल्ली में विधानसभा चुनाव भी लड़ा था, लेकिन जीत नहीं पाईं।
 
 

Delhi: Former Union Minister Krishna Tirath quits BJP ,rejoins Congress pic.twitter.com/zIrO0FuuMl— ANI (@ANI) April 12, 2019

2014 में लोकसभा चुनाव हारी थीं तीरथ
2014 के चुनाव में उत्तर पश्चिम दिल्ली सीट पर कृष्णा तीरथ को भाजपा उम्मीदवार उदित राज से करारी शिकस्त मिली थी, जिसके बाद वह भाजपा में शामिल हो गईं। कयास लगाया जा रहा है कि कांग्रेस पार्टी ने उन्हें एक बार फिर दिल्ली से चुनाव लड़ा सकती है।