लोकसभा चुनाव: केजरीवाल ने दिए संकेत, आप और कांग्रेस के बीच हो सकता है गठबंधन

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव को लेकर दिल्ली में आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के बीच गठबंधन का सस्पेंस खत्म नहीं हुआ है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के संकेत के बाद इसकी संभावनाएं फिर से बढ़ गई है। रविवार को केजरीवाल ने कहा कि कांग्रेस और आप के बीच इस मुद्दे पर बातचीत चल रही है। मोदी जी और अमित शाह जी की जोड़ी के कारण देश का संविधान खतरे में है इसे बचाने के लिए हम गठबंधन करने पर विचार कर रहे हैं। आखिरी दम तक हम इस जोड़ी को रोकने की कोशिश करेंगे। सूत्रों की मानें तो आप और कांग्रेस मोदी को रोकने के लिए दिल्ली में गठबंधन करने के मूड में है। लेकिन सीटों पर सहमति नहीं बनने को लेकर गठबंधन नहीं हो पा रहा है।
ये भी पढ़ें: EVM पर फिर छिड़ी जंग, अभिषेक मनु सिंघवी का EC पर बड़ा आरोप, सुप्रीम कोर्ट जाने की दी चेतावनी

Delhi CM Arvind Kejriwal on if discussions on Congress-AAP alliance are still underway: The country is in danger. To save the country from Modi Ji & Amit Shah Ji’s ‘jodi’, we are ready to do whatever is needed. Our efforts will continue till the end. #LokSabhaElections2019 pic.twitter.com/ryvtACTrQj— ANI (@ANI) April 14, 2019

आप ने गठबंधन से किया था इनकार
दिल्ली की 7 लोकसभा सीटों पर कांग्रेस 4 सीट मांग रही है। जबकि आप तीन सीट देने को तैयार है। साथ ही बताया जा रहा है आम आदमी पार्टी दिल्ली के अलावा हरियाणा, पंजाब और राज्यों में कांग्रेस पर गठबंधन करने के लिए दबाव बना रहा है। लेकिन कांग्रेस इसपर राजी नहीं है। पिछले दिनों आप नेता और राज्यसभा सांसद संजय सिंह कांग्रेस के साथ गठबंधन की खबर को नकार दिया था। संजय सिंह ने कहा था कि कांग्रेस आम आदमी पार्टी की शर्तों पर खड़ी नहीं उतर रही है। ऐसे में हम साथ चुनाव नहीं लड़ेंगे। लेकिन केजरीवाल के इस बयान ने एक बार फिर गठबंधन की उम्मीद जता दी है।