लालू परिवार में सियासी ‘महाभारत’, लोकसभा के ‘कुरुक्षेत्र’ में ससुर के खिलाफ निर्दलीय लड़ सकते हैं तेज प्रताप

नई दिल्ली। गुरुवार से आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के परिवार में सियासी ‘महाभारत’ जारी है। बड़े बेटे तेजप्रताप यादव ने परिवार के खिलाफ जंग छेड़ दी है। पहले राजद छात्र विंग से इस्तीफा दिया। वहीं, खबर यह आ रही है कि ससुर चंद्रिका राय को आरजेडी से टिकट मिलने से तेजप्रताप बेहद नाराज हैं। सूत्रों की मानें तो तेजप्रताप अपने ससुर चंद्रिका राय के खिलाफ सारण लोकसभा सीट से निर्दलीय चुनाव लड़ सकते हैं।
ससुर के खिलाफ चुनाव लड़ सकते हैं तेज
शुक्रवार को महागठबंधन ने बिहार में सीटों का ऐलान कर दिया। आरजेडी ने 19 सीटों में से 18 सीटों पर उम्मीदवारों की सूची जारी कर दी है। सारण सीट से तेजप्रताप के ससुर चंद्रिका राय को टिकट दिया गया है। लेकिन, आरजेडी का यह फैसला तेजप्रताप को मंजूर नहीं है। तेजप्रताप के करीबी लोगों का कहना है कि चंद्रिका राय को टिकट दिए जाने से वह काफी नाराज हैं। इतना ही नहीं तेजप्रताप उनके खिलाफ निर्दलीय चुनाव भी लड़ सकते हैं। हालांकि, तेजप्रताप की ओर से अभी तक कोई फैसला नहीं सुनाया गया है।
 
 

Bihar mahagathbandhan releases seat-sharing agreement for 40 Lok Sabha seats. RJD to contest on 19 seats, Congress on 9 seats, RLSP on 5 seats, HAM(S) on 3 seats, VIP on 3 seats and CPI(ML) on 1 seat. pic.twitter.com/leJ9DhHUGS— ANI (@ANI) March 29, 2019

टिकट बंटवारे से तेजप्रताप नाराज
गौरतलब है कि तेजप्रताप की शादी चंद्रिका राय की बेटी ऐश्वराय राय से हुई है। लेकिन, छह महीने के दौरान ही अपनी पत्नी से तलाक लेने के लिए वह कोर्ट पहुंच गए। हालांकि, लालू परिवार इस तलाक के खिलाफ है और तेज प्रताप को कई बार मनाने की भी कोशिश की गई। लेकिन, तेज प्रताप ने घरवालों के साथ रहने से मना कर दिया। वहीं, तेज प्रताप सीट बंटवारे को भी लेकर परिवार से नाराज चल रहे हैं। खबर यह भी थी कि वह कुछ सीटों पर अपने पसंदीदा उम्मीदवार उतार सकते हैं। हालांकि, लालू प्रसाद के दखल से मामला अभी शांत है।