राहुल गांधी का हमला, बोले- मिस्टर वाड्रा के साथ पीएम मोदी की भी हो जांच

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सख्त लहजे में कहा है कि रॉबर्ट वाड्रा पर जांच होनी चाहिए। कानून सबके लिए समान होना चाहिए। इसलिए इस मामले में पीएम नरेंद्र मोदी की भी जांच होनी चाहिए।
यह बात उन्होंने चेन्नई के स्टेला मैरिस कॉलेज में आयोजित समारोह के दौरान छात्राओं के सवालों के जवाब में कहीं। रॉबर्ट वाड्रा पर पूछे गए सवाल के जवाब में राहुल गांधी ने कहा- ‘उनके बारे में क्या? कानून सबके लिए समान है। मिस्टर वाड्रा की जांच होनी चाहिए, मैं पहला इंसान हूं, जो यह कह रहा हूं। प्रधानमंत्री मोदी पर भी जांच होनी चाहिए।‘
उन्होंने कहा, ‘पीएम मोदी कभी रफाल पर नहीं बोलते। उन्होंने निजी तौर पर रफाल सौदे में अनिल अंबानी को फायदा पहुंचाया। उन्होंने एचएएल को हटाकर अनिल अंबानी को यह कॉन्ट्रैक्ट दिलाया। जेंटलमैन ने कहा था कि वह चौकीदार हैं, तो इसकी शुरुआत खुद से करें। अपने खिलाफ भी जांच की आज्ञा दें।’
छात्राओं के साथ इंटरेक्शन के दौरान राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री मोदी पर हमला बोलते हुए कहा कि- ‘आपमें से कितने लोगों ने कितनी बार पीएम मोदी को 3000 महिलाओं के बीच इस तरह खड़े होकर सवालों के जवाब देते हुए देखा है। प्रधानमंत्री मोदी में यह साहस नहीं है कि वह महिलाओं के सवालों का इस तरह से सामना कर सकें।‘ राहुल ने कहा कि वह छात्रों के साथ संवाद में विश्वास रखते हैं क्योंकि इससे उन्हें सीखने का मौका मिलता है।
इस दौरान राहुल गांधी ने वादा किया कि अगर उनकी पार्टी सत्ता में आती है तो सबसे पहले महिला आरक्षण बिल को पास कराएंगे ताकि संसद और विधानसभाओं में महिलाओं की भागीदारी सुनिश्चित की जा सके। उन्होंने सरकारी नौकरियों में महिलाओं के लिए 33 फीसदी कोटा सुनिश्चित करने का वादा भी किया।
सवालों के दौरान एक छात्रा ने देश में महिलाओं की स्थिति के बारे में सवाल पूछा। इसके जवाब में राहुल गांधी ने कहा कि ‘दक्षिण भारत में महिलाओं की स्थिति उत्तर भारत के राज्यों जैसे उत्तर प्रदेश, बिहार से बहुत बेहतर है। खास कर तमिलनाडु में महिलाओं की स्थिति अच्छी है।’ उन्होंने कहा कि अगर आपको यूपी और बिहार में जाने का मौका मिले, तो आप वहां पर महिलाओं की स्थिति को देखकर चौंक जाएंगे।