रामनवमी की रैलियों पर बरसीं ममता, कहा भाजपा कर रही शांति भंग

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने रामनवमी की रैलियों पर टिप्पणी करते हुए इन्हें भाजपा की राजनीतिक लाभ लेने की कोशिश बताया। ममता ने आरोप लगाया कि भोले-भाले लोगों को गुमराह करके भाजपा धर्म और त्योहारों का भी सियासी इस्तेमाल कर रही है, जिससे बंगाल की शांति खतरे में पड़ गई है।
रामनवमी की रैलियों को बताया सशस्त्र रैलियां
पश्चिम बंगाल में शनिवार को अनेक स्थानों पर रामनवमी की रैलियां निकाली गईं। इन्हें सशस्त्र रैलियां बताकर सीएम ममता बनर्जी ने इनके लिए भाजपा को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने भाजपा पर पश्चिम बंगाल के शांतिपूर्ण माहौल को खराब करने की कोशिश करने का आरोप लगाया। ममता ने कहा कि धर्म का इस्तेमाल करके भाजपा राजनीतिक लाभ लेने की कोशिश कर रही है।
ये भी पढ़ें: भाजपा में नंबर 2 से केंद्र सरकार में नंबर 2 की तैयारी में अमित शाह!
धर्म के दुरुपयोग का लगाया आरोप
ममता बनर्जी ने अपनी पार्टी के दार्जिलिंग संसदीय सीट के उम्मीदवार अमर सिंह राय के समर्थन में आयोजित एक चुनावी रैली में कहा, ‘धर्म के नाम पर भाजपा लोगों को गुमराह कर रही है। लोकसभा चुनाव से ठीक पहले भाजपा पश्चिम बंगाल की जनता को धर्म के आधार पर बांटने की कोशिश कर रही है। राज्य की संस्कृति हिंसा की पक्षधर कभी नहीं रही। वे लोग रैलियों में खुलेआम तलवार और गदा लेकर घूम रहे थे।‘
ममता ने कहा NRC को बंगाल में नहीं देंगी अनुमति
ममता ने सवाल किया कि ऐसे लोग किसका गला काटना चाहते हैं? किसका सिर वे गदा मारकर फोड़ना चाहते हैं? ममता ने दावा किया कि वह पश्चिम बंगाल में नागरिकों के राष्ट्रीय रजिस्टर (National Register of Citizens) को अनुमति नहीं देंगी। उन्होंने कहा कि भाजपा नेता बंगाल में NRC लागू करने की बात कर रहे हैं।
ये भी पढ़ें: भाजपा का कांग्रेस मुक्त भारत का जुमला भी औंधे मुंह गिरा
ममता ने खेला क्षेत्रवाद का कार्ड
ममता ने क्षेत्रवाद का कार्ड खेलते हुए कहा कि तृणमूल ने दार्जिलिंग से ‘भूमिपुत्र’ को टिकट दिया है, जबकि भाजपा ने मणिपुर के एक व्यक्ति को लोकसभा का टिकट दार्जिलिंग से दिया है। यह बहुत ही दुखद है कि भाजपा को चुनाव लड़ने के लिए राज्य में से कोई उम्मीदवार नहीं मिला। ममता ने दावा किया कि केंद्र में भी अब भाजपा सरकार नहीं बनने जा रही।
Indian Politics से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..
Lok sabha election Result 2019 से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए Download patrika Hindi News App.