मुन मुन सेन का चौंकाने वाला बयान, जरूरत पड़ी तो अपने दोस्त इमरान खान से करूंगी बात

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव के चौथे चरण के लिए राजनीतिक दलों के नेताओं की रणनीतियां भी सामने आने लगी हैं। कोई सेना के नाम पर वोट मांग रहा है तो कोई पाकिस्तान के वजीर को अपना दोस्त बता कर नई पहले की वकालत करने में जुटा है। किसी ने रोजगार देकर तो किसी चौकीदार बनकर आम लोगों से अपने पक्ष में वोट मांगे। लेकिन चुनाव के प्रचार में नेताओं के विवादित बयान भी अब जोर पकड़ रहे हैं। ताजा मामला मशहूर अभिनेत्री मुन मुन सेन का है। जिन्होंने अपने विवादित बयान से प. बंगाल की राजनीति में हलचल बढ़ा दी है।
अनुपम खेर ने रोड शो के जरिये पत्नी के लिए मांगे वोट, किरण खेर ने चंडीगढ़ में भरा नामांकनअभिनेत्री मुन मुन सेन ने चुनाव प्रचार मुहिम में राष्ट्रवाद और पाकिस्तान को मुद्दा बनाकर वोट बटोरने की कोशिश पर हताशा जाहिर की। यही नहीं उन्होंने कहा कि जरूरत पड़ी तो वे अपने पुराने मित्रा पाकिस्तान के पीएम इमरान खान से फिर बात करेंगी। हालांकि मुन मुन सेन ने कहा कि मौजूदा समय में पाकिस्तान को लेकर जिस तरह की विभाजनकारी नीति चल रही है वो बहुत खतरनाक है।
मौसमः दिल्ली-एनसीआर में सताएगी लू, दक्षिण में बारिश के साथ चलेगी आंधी
यह पूछे जाने पर कि दोनों देशों के बीच शत्रुतापूर्ण माहौल को देखते हुए भी क्या वह दोबारा उनसे बात करेंगी, सेन ने कहा, क्यों नहीं? आखिरकार, वह मित्र हैं। आपको बता दें कि हाल में इमरान खान ने कहा था कि भारत में दोबारा मोदी सरकार आती है तो दोनों देशों के बीच शांति प्रक्रिया आगे बढ़ाना ज्यादा आसान होगा। सेन ने ये भी कहा कि प. बंगाल में मैं अकेली उनकी दोस्त नहीं हूं, यहां उनके कई दोस्त हैं जो जरूरत पढ़ने पर उनसे बातचीत कर सकते हैं। सेन का ये बयान ऐसे समय आया है जब सीमा पार से लगातार घुसपैठिये जवानों पर हमले कर रहे हैं। ऐसे में इमरान से बातचीत का सेन का विवादित बयान प्रदेश की सियासत में हलचल बढ़ाने वाला साबित हो रहा है।