महागठबंधन से ममता का मोहभंग!, कांग्रेस और CPM को लेकर किया बड़ा ऐलान

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव को लेकर धुंआधार प्रचार-प्रसार जारी है। दिग्गज नेतागण लगातार अलग-अलग जगहों पर एक दिन में कई चुनावी रैलियां कर रहे हैं। इसी कड़ी में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सिलीगुड़ी में जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस और मार्क्सवादी कम्युनिष्ठ पार्टी (CPM) पर जमकर निशाना साधा।
कांग्रेस और CPM के खिलाफ ममता का ‘हल्ला बोल’
चुनावी रैली को संबोधित करते हुए तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष ममता बनर्जी ने कहा कि इस चुनाव में न तो कांग्रेस को वोट दें और न ही सीपीएम को। उन्होंने जनता से अपील की कि इन दोनों पार्टियों को अपना वोट देकर समय बर्बाद न करें। ममता ने रैली में मौजूद लोगों से कहा कि मैं पहले कांग्रेस में ही थी। वहां से परेशान होकर मैने पार्टी छोड़ दी और तृणमूल कांग्रेस पार्टी का गठन किया। इसके बाद से आप आज राज्य में हुए विकास के खुद गवाह हैं। ममता बनर्जी के इस बयान को गठबंधन में चुनाव से पहले ही फूट के तौर पर लोग देख रहे हैं। अब देखना यह है कि चुनाव परिणाम के बाद कांग्रेस और टीएमसी के बीच तामलेल बैठती है या फिर दोनों की राजनीति अलग होगी। क्योंकि, ममता बनर्जी भाजपा के साथ-साथ कांग्रेस के खिलाफ भी लगातार बयान दे रही हैं।
गौरतलब है कि शुक्रवार को ममता सरकार ने सिलीगुड़ी में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को सभा स्थल के पास हेलिकॉप्टर उतारने की इजाजत नहीं दी। जिसके बाद दोनों पार्टियों के बीच एक बार फिर राजनीति गरमा गई थी।