भाजपा-AAP के बीच सियासी जंग तेज, सांसद रमेश बिधूड़ी ने सीएम केजरीवाल को कहे अपशब्द

नई दिल्ली। आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देनजर हर राजनीतिक दल सक्रिय हो चुके हैं और विरोधियों को मात देने के लिए तमाम तरह की रणनीति भी बना रहे हैं। राजनतीकि दल और केंद्र से लेकर राज्य सरकारें तक अपनी-अपनी उपलब्धियों को जनता के सामने रैली करते हुए गिना रहे हैं। तो वहीं अपने विरोधियों को लेकर पोल खोलने का भी काम कर रहे हैं। इन सबके बीच नेताओं में भाषा की मर्यादा भी नीचे गिर रही है। अपने विरोधियों पर आरोप लगाते हुए इतने खो जाते हैं कि उन्हें भाषा की मर्यादा का भी ख्याल नहीं रहता है। ऐसा ही कुछ राजधानी दिल्ली की सियासत में देखने को मिला। दरअसल दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का विरोध करते हुए भाजपा नेता और दक्षिणी दिल्ली से सांसद रमेश बिधूड़ी ने अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया। हैरानी की बात है कि इस दौरान मंच पर केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह भी मौजूद थे।
लोकसभा चुनाव के लिए गठबंधन को लेकर कौन कितना मजबूत और कौन कितना मजबूर
रमेश बिधूड़ी ने केजरीवाल पर लगाए आरोप
आपको बता दें कि सांसद रमेश बिधूड़ी ने केजरीवाल पर कई गंभीर आरोप लगाए और सवाल भी खड़े किए। उन्होंने कहा कि केजरीवाल ने पटरी पर मोहल्ला क्लीनिक बनाकर नौटंकी की है। वे आज भी दक्षिणी एमसीडी का 300 करोड़ रुपए रोककर बैठे हुए हैं, जबकि मैटरनिटी डिस्पेंसरी हमने बनाई है। इतना ही नहीं, बिधूड़ी ने आरोप लगाते हुए कहा कि केजरीवाल कांग्रेस की चप्पल चाटते हुए कहते हैं कि दिल्ली में कांग्रेस के बगैर जीत पानी मुश्किल है। बता दें कि दिल्ली में 6 नए स्कूलों के शिलान्यास और उद्घाटन करने के लिए राजनाथ सिंह और रमेश बिधूड़ी पहुंचे थे। इस दौरान एसडीएमसी के महापौर नरेंद्र चावला भी मौजूद थे।
इस कांग्रेस नेता ने सपा-बसपा के साथ गठबंधन को लेकर दिया बड़ा बयान, मचा हड़कम्प
बिधूड़ी ने AAP सरकार की गिनाई विफलताएं
बता दें कि रमेश बिधूड़ी ने आम आदमी पार्टी सरकार की जमकर आलोचना की और दिल्ली सरकार की नाकामियों को गिनाया। बिधूड़ी ने केजरीवाल से सवाल पूछा कि आयुष्मान योजना दिल्ली में क्यों लागू नहीं होने दी? उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि केजरीवाल शीला दीक्षित के तलवे चाटकर गठबंधन करना चाहते हैं, लेकिन अब कांग्रेस भी भाव नहीं दे रही है। उन्होंने पूछा के केजरीवाल ने हर लोकसभा क्षेत्र में तीन अस्पताल खोलने की बात कही थी, लेकिन अस्पताल कहां है? इसके अलावा केजरीवाल ने वादा किया था कि इंद्रा कल्याण विहार के अंदर 500 हायर सेकेंडरी स्कूल बनाकर देंगे जबकि 70 स्कूल दक्षिणी दिल्ली लोकसभा में आते हैं। आखिर तुगलकाबाद, बदरपुर, कालकाजी विधान सभा में कोई स्कूल क्यूं नहीं बन सके? बिधूड़ी ने अपनी सरकार की उपलब्धि गिनाते हुए बताया कि एसडीएमसी नेकेवल 24 करोड़ की लागत से 5 वर्ष में 25 स्कूल का निर्माण किया, 3 भवन बनकर भी तैयार हो गए हैं। बता दें कि इस दौरान राजनाथ सिंह और नरेंद्र चावला ने भी आम आदमी पार्टी सरकार की जमकर आलोचना की।
 
Read the Latest India news hindi on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले India news पत्रिका डॉट कॉम पर.