भाजपा पर कांग्रेस का पलटवार, सुरजेवाला बोले- संकल्प पत्र नहीं ये ‘झांसा पत्र’

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी ने संकल्प पत्र जारी करने के बाद कांग्रेस की प्रतिक्रिया सामने आई है। कांग्रेस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिये भाजपा पर जमकर निशाना साधा। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि भाजपा का संकल्प पत्र सिर्फ झांसा पत्र बनकर रह गया है। वहीं अहमद पटेल ने भाजपा और कांग्रेस के घोषणा पत्र का कवर फोटो दिखाते हुए कहा कि कांग्रेस ने जहां अपने कवर फोटो पर जनता को जगह दी वहीं भाजपा ने अपने कवर फोटो पर सिर्फ मोदी दिखाई दे रहे हैं। यानी मैं ही मैं और सिर्फ मेरा अहंकर नजर आ रहा है।

Ahmed Patel.Congress: The difference between BJP Manifesto and Congress manifesto can be seen firstly from the cover page. Our’s has a crowd of people, and BJP manifesto has face of just one man. Instead of a manifesto BJP should have come out with a ‘maafinama’ pic.twitter.com/nGjdHyu3QH— ANI (@ANI) April 8, 2019

भाजपा पर निशाना साधते हुए उन्होंने कि पांच साल के शासन के बाद तो नरेंद्र मोदी को हिसाब देना चाहिए था किसानों, बेरोजगारों और व्यापारियों के लिए भाजपा सरकार ने आखिर क्या किया। यही नहीं कांग्रेस नेता ने कहा कि कुछ लोगों को कुछ वक्त के लिए आप गुमराह कर सकते हैं, लेकिन देश की जनता को हमेशा के लिए आप गुमराह नहीं कर सकते। कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में कहा है कि न्याय होगा और हम कहते हैं कि हां, अब न्याय होकर रहेगा।
वहीं कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि मोदी सरकार ने देश के विश्वास में विश घोल दिया है। मोदी का मूल मंत्र है ‘झांसे में फांसो’। सुरजेवाला ने कहा ये भाजपा का संकल्प पत्र नहीं बल्कि ‘झांसा पत्र’ है।
कांग्रेस का भाजपा पर वार – काम के नाम पर मोदी नाम के विद्यार्थी की कॉपी खाली है- भाजपा आज भी जुमलों की खेती कर रही- किसानों को लेकर भाजपा ने एक बार फिर 2014 का वादा दोहराया- हर महीने मोदी जी 45 हजार करोड़ कर्ज लेते हैं- मोदी जी ने दलितों को आरक्षण पर हमला किया- बेटियों पर अत्याचार करने वालों को संरक्षण देती है भाजपा
कांग्रेस ने भाजपा के संकल्प पत्र को लेकर लगातार कड़े हमले बोले। सुरजेवाला ने भाजपा के संकल्प पत्र को झूठ का गुब्बारा बताया। यही नहीं उन्होंने कहा कि भाजपा के मेनिफेस्टो में देश से वास्ता नहीं है। इससे तो अच्छा था कि भाजपा मेनिफेस्टो की बजाय माफीनामा जारी करती।