भाजपा ने शॉटगन को किया ‘खामोश’, टिकट मिलने पर रविशंकर ने कहा- ‘शत्रु’ से हमारा दोस्तना रिश्ता

नई दिल्ली। बिहार के लिए एनडीए प्रत्याशियों की सूची जारी कर दी गई है। चालीस लोकसभा सीटों में से 39 पर प्रत्याशित घोषित कर दिए गए हैं। इस दौरान सब की निगाहें जिस सीट पर टिकी थी, वो पटना साहिब है। पटना साहिब से शत्रुघ्न सिन्हा लगातार दो बार से भाजपा टिकट पर चुनावी ताल ठोक रहे थे। लेकिन, इस बार उनका टिकट काट दिया गया है। पटना साहिब से इस बार भाजपा ने केन्द्रीय मंत्री और राज्यसभा सांसद रविशंकर प्रसाद को टिकट दिया है।
शत्रुघ्न सिन्हा को लेकर रविशंकर प्रसाद का बयान
पार्टी और पीएम मोदी के खिलाफ लगातार बयान देने वाले ‘शॉटगन’ का टिकट इस बार कट गया है। भाजपा से अब सिन्हा चुनावी ताल नहीं ठोक पाएंगे। पार्टी ने देश के कद्दावर नेता और बिहार के जाने-माने चेहरे रविशंकर प्रसाद को अपना उम्मीदवार घोषित किया है। रविशंकर प्रसाद पहली बार लोकसभा चुनाव लड़ेंगे। टिकट मिलने पर प्रसाद ने पीएम नरेंद्र मोदी और पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को धन्यवाद दिया और कहा कि पटना मेरा शहर है, मैंने यहां जन्म लिया, पढ़ाई की और यहीं से वकील बना। रविशंकर प्रसाद ने कहा कि पटना शहर से मेरा भावनात्मक लगाव रहा है। यहां से मुझे टिकट मिला इसके लिए मैं अपनी पार्टी का आभारी हूं।
अब क्या शॉटगन हो जाएंगे ‘खामोश’
वहीं, जब उनसे शत्रुघ्न सिन्हा के बारे में बात की गई तो भाजपा नेता ने साफ कहा- नो कॉमेंट्स। केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि मेरा शत्रुघ्न सिन्हा से दोस्ताना रिश्ता रहा है, मैं राजनीतिक रिश्ते को लेकर उनपर किसी तरह की टीका-टिप्पणी नहीं करूंगा। गौरतलब है कि पटना साहिब भाजपा की परंपरागत सीट है और पार्टी वहां से चुनाव जीतती आ रही है। अब देखना यह है कि शत्रुघ्न सिन्हा किसी दूसरी पार्टी से रविशंकर प्रसाद के खिलाफ बिगुल फूंकते हैं या फिर एक बार यह सीट भाजपा के पाले में जाएगी।