भाजपा को लेकर शिवसेना नेता संजय राउत का बड़ा बयान, बोले- नहीं मिल रहा बहुमत

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव के तीसरे चरण का मतदान चल रहा है लेकिन इस बीच राजनीतिक दलों के नेताओं की जुबानी जंग भी जारी है। ताजा मामला शिवसेना के वरिष्ठ नेता संजय राउत का सामने आया है। संजय राउत के बयान से भाजपा खेमे में हलचल बढ़ गई है। दरअसल राउत ने कहा है कि इस बार कोई भी राजनीतिक दल पूर्ण बहुमत की सरकार नहीं बना पाएगा। एनडीए में शामिल शिवसेना के इस बयान के बाद भाजपा के मुश्किल हो सकती है।
पिछले लंबे समय से भाजपा और शिवसेना के बीच सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है। महाराष्ट्र में भाजपा से सहयोग लेने के बाद लगातार शिवसेना की ओर से भाजपा को लेकर बयान बाजी चलती रही है। तीसरे चरण के मतदान के बीच संजय राउत का इस तरह का बयान भाजपा को नागवार गुजर सकता है।
श्रीलंका बम धमाकों के बाद रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण की नौसेना अधिकारियों के साथ बैठक, समुद्री सीमा सुरक्षा पर अहम बातचीतशिवसेना नेता राउत ने कहा है कि इस बार किसी भी पार्टी को पूर्ण बहुमत नहीं मिलेगा। साथ ही उन्होंने ये भी कहा है कि एनडीए दोबारा सरकार बनाने जा रहा है।
आपको बता दें कि 23 अप्रैल को देश के 15 राज्यों की 117 सीटों के लिए मतदान जारी है। सुबह से बड़ी संख्या में मतदाता मतदान के लिए कतार में लगे दिखाई दिए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल करने के साथ ही मतदाताओं से वोट डालने की अपील की। वहीं भाजपा अध्यक्ष अमित शाह समेत कई दिग्गजों ने आज अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया। बताते चलें कि तीसरे चरण में गुजरात की पूरी 26 लोकसभा सीटों पर एक साथ मतदान हो रहा है। पहली बार भाजपा अध्यक्ष अमित शाह पार्टी की परंपरागत सीट गांधी नगर से लोकसभा चुनाव लड़ रहे हैं। यहां से पूर्व पीएम अटल बिहारी वजापेयी और लालकृष्ण आडवाणी लड़कर जीतते आए हैं। इस बार भाजपा ने लालकृष्ण आडवाणी को गांधी नगर से टिकट नहीं दिया। इसके पीछे उनकी उम्र का हवाला दिया गया।

Sanjay Raut , Shiv Sena: Jo chitra mere saamne hai, iss desh mein kisi ek party ki satta ab nahi aayegi. satta aayegi NDA ki, hum sab NDA ke allies hain aur NDA ki sarkar banne ja rahi hai. pic.twitter.com/9FPeAumKKD— ANI (@ANI) April 23, 2019

राउत ने भले ही एनडीए कहकर अपनी बयान का वजन कम करने की कोशिश की हो लेकिन मतदान के बीच इस तरह बयानों से एनडीए को ही नुकसान हो सकता है। हालांकि संजय राउत के बयान पर अब तक भाजपा के किसी भी नेता का कोई बयान या प्रतिक्रिया नहीं आई है, लेकिन निश्चित तौर पर भाजपा के लिए इस तरह के बयानों के पचा पाना मुश्किल लग रहा है।