बिहार में ‘हाथ’ का साथ, यूपी में साइकिल पर बैठे शॉटगन!, क्या ‘पार्टी और पत्नी’ के बीच बन पाएंगे अजात’शत्रु’?

नई दिल्ली। बहुत पुरानी कहावत है राजनीति में कब, कहां और क्या हो जाए यह कोई नहीं जानता? कौन किसका ‘हाथ’ थाम ले और कौन किससे दामन छुड़ा ले इसकी कल्पना भी नहीं की जा सकती? शायद राजनीति का यही ‘रंग और रूप’ एक यथार्थ सच है। कई बड़ी शख्सियतों ने तो यहां तक कहा है, ‘राजनीति में कुछ भी सच नहीं, बस यही उसका एक सच है’। शायद इसी का यह परिणाम है कि उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में गुरुवार को जो नजारा देखने को मिला, इसकी कल्पना शायद ही किसी ने की हो? हम बात कर रहे हैं चंद दिनों पहले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से कांग्रेस में शामिल हुए अभिनेता और राजनेता शत्रुघ्न सिन्हा की, जिन्हें बिहार के पटनासाहिब सीट से कांग्रेस ने अपना उम्मीदवार घोषित किया है। लेकिन, उत्तर प्रदेश में शॉटगन ‘हाथ’ का साथ छोड़कर ‘साइकिल’ पर सवार हो गए।
 क्या है धरती के ‘विश्वानाथ’ की महिमा?
तस्वीर देखकर आपको यह तो अंदाजा हो ही गया होगा कि शत्रुघ्न सिन्हा ने अपनी राजनीतिक बिसात किस तरह बिछाई है? ‘विश्वनाथ’ ने खुद राहुल गांधी का ‘हाथ’ थामा, तो पत्नी पूनम सिन्हा को साइकिल की सवारी करा दी। ‘बिहारी बाबू’ ने बिहार, यूपी होते हुए दिल्ली तक सियासी जाल बिछा दिया है। बिहार में खुद कांग्रेस पार्टी से चुनाव लड़ रहे हैं। यूपी में समाजवादी पार्टी ने लखनऊ से पूनम सिन्हा को उम्मीदवार घोषित किया है और अब इस जोड़ी ने अपनी नजरें दिल्ली पर टिका दी हैं।
सपा की सरगर्मी में ‘शॉटगन’
पूनम सिन्हा ने गुरुवार को लखनऊ लोकसभा सीट से अपना नामांकन दाखिल किया। इसके बाद सपा ने शक्ति प्रदर्शन करते हुए डिंपल यादव की अगुवाई में रोड शो किया। इस रोड शो में पत्नी पूनम सिन्हा का साथ देने के लिए शॉटगन भी पहुंच गए। सपाईयों ने शॉटगन का जोरदार स्वागत किया तो ‘शत्रु’ ने भी दिल खोलकर लोगों का अभिनंद किया। बात यहीं खत्म हो जाती तो मामला कुछ और होता, लेकिन इस रोड शो ने दिल्ली के गलियारे तक सनसनी मचा दी है। ‘शत्रुघ्न’ पर सवाल उठने लगे हैं? कांग्रेस को लेकर उनकी ईमानदारी और बफदारी पर सवाल उठ गए हैं? सवाल उठना भी लाजमी है, क्योंकि यह प्रचार सीधे तौर पर कांग्रेस के खिलाफ था। दरअसल, कांग्रेस यूपी में अकेले चुनाव लड़ रही है। वहीं, राज्य में सपा-बसपा और आरएलडी का गठबंधन है। कांग्रेस ने लखनऊ सीट से आचार्य प्रमोद कृष्णम को अपना उम्मीदवार घोषित किया है। सपा की ‘सरगर्मी’ में शत्रुघ्न को देखकर प्रमोद कृष्णम को ठेस पहुंची और उन्होंने तुरंत बयान दिया कि ‘शत्रु’ पार्टी धर्म निभाएं और मेरे लिए चुनाव प्रचार करें। कांग्रेस प्रत्याशी के इस बयान से शॉटगन भी आहत हुए और साफ कहा, ‘परिवार पहले, पार्टी बाद में’। हालांकि, कांग्रेस प्रवक्ता अखिलेश प्रताप सिंह ने कहा कि शत्रुघ्न सिन्हा लखनऊ में अपनी पत्नी के लिए प्रचार कर रहे हैं ये उनके परिवार का मामला है। इससे कांग्रेस को कोई नुकसान नहीं होने वाला है। कांग्रेस उम्मीदवार यहां से चुनाव जीत रहे हैं।
 ‘शॉटगन की सियासत’
लखनऊ में सपा की ‘शक्ति’ से बीच चुनाव में सियासत गरमा गई है। सिद्धांत से शुरू हुई कांग्रेस में ‘शॉटगन’ की सियासत, अब परिवार तक जा पहुंची है। ‘पत्नी और पार्टी’ को लेकर कांग्रेस में अचानक तनाव बढ़ गया है। अब देखना यह है कि कांग्रेस के ‘शॉटगन’ यूपी में खामोश होतें हैं या फिर सपा के साथ मिलकर पत्नी के लिए ‘साइकिल’ की सवारी करेंगे।