बिहार महागठबंधन को बड़ा झटका!, कांग्रेस नेता शकील अहमद निर्दलीय ठोक सकते हैं चुनावी ताल

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव का महाकुंभ अब पहले पड़ाव पर पहुंच चुका है। 11 अप्रैल को पहले चरण के लिए वोट डाले जाएंगे। लेकिन, बिहार महागठबंधन में अब भी गुत्थी सुलझ नहीं सकी है। मधुबनी लोकसभा सीट को लेकर पेंच फसता नजर आ रहा है। चर्चा यह है कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शकील अहमद यहां से निर्दलीय चुनाव लड़ सकते हैं।
बगावत कर सकते हैं कांग्रेस नेता शकील अहमद!
महागठबंधन में सीट बंटवारे के तहत मधुबनी लोकसभा सीट विकासशील इंसान पार्टी (VIP) को दिया गया है। वीआईपी ने बद्री पूर्वे को इस सीट से अपना उम्मीदवार घोषित किया है। लेकिन, अब चर्चा यह है कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शकील अहमद इस फैसले से नाराज हो गए हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, शकील अहमद यहां से निर्दलीय चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे हैं। कहा यहां तक जा रहा है कि शकील अहमद 16 अप्रैल को मधुबनी से नामांकन दाखिल कर सकते हैं। इसके लिए उन्होंने मधुबनी निर्वाचन आयोग से अपने नाम का NR कटवा लिया है। गौरतलब है कि नामांकन से पहले किसी भी उम्मीदवार को NR कटवाना पड़ता है।
दिलचस्प हो सकता है मुकाबला
हालांकि, कांग्रेस पार्टी की ओर से इस मामले में अब तक कोई बयान नहीं आया है। लेकिन, अगर ऐसा होता है तो महागठबंधन को नुकसान हो सकता है। यहां आपको बता दें कि एनडीए की ओर से मधुबनी सीट भाजपा के खाते में गई है। पार्टी ने यहां से हुकुमदेव नारायण के बेटे अशोक यादवत को अपना उम्मीदवार घोषित किया है।