बंगाल में बूथ पर ही रो पड़ी भाजपा प्रत्याशी भारती घोष, टीएमसी वर्करों पर बदतमीजी का लगाया आरोप

नई दिल्ली। देश की 17वीं लोकसभा के लिए छठे चरण का मतदान जारी है। छठे चरण में देश के 7 राज्यों की 59 सीटों पर मतदान हो रहा है। इसमें दिल्ली, पंजाब, यूपी, हरियाणा और पश्चिम बंगाल प्रमुख रूप से शामिल है। पिछले चरणों की तरह इस चरण में भी पश्चिम बंगाल में अब तक सबसे ज्यादा वोटिंग की खबरें मिल रही हैं लेकिन इस बीच हिंसा झड़प को लेकर भी पश्चिम बंगाल से ही खबरे आ रही हैं। यहां की घाटल लोकसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी की उम्मीदवार और भारतीय पुलिस सेवा की पूर्व अधिकारी रह चुकी भारती घोष के साथ बदतमीजी का खबर सामने आई है। खास बात यह है अपने साथ हुए दुर्व्यवहार के बाद भाजपा नेता बूथ पर ही रो पड़ीं।
भारत घोष ने रोते हुए आरोप लगाया कि मैं अपने लोकसभा क्षेत्र घाटल के एक मतदान केंद्र गई थी, जहां तृणमूल कांग्रेस की कुछ महिला समर्थकों ने मेरे साथ दुर्व्यवहार किया और धक्का-मुक्की करने लगीं। आपको बता दें कि हाल में भारती घोष की कार से 1 लाख रुपए से ज्यादा नकदी बरामद की गई थी। जिसको लेकर भी काफी हंगामा हुआ था। हालांकि घोष इस नकदी को पार्टी फंड से निकाला गया रुपया बताया था, लेकिन उस दौरान पुलिस ने इसे सीज कर लिया था।
दिल्ली-एनसीआर में धूल से मिलेगी राहत तो 24 घंटे में कई राज्यों में बदलेगा मौसम
घोष ने कहा कि मैं के उम्मीदवार हूं। मेरे साथ जबरदस्ती धक्का-मुक्की की गई और यहीं नही इस दौरान मेरे साथ गलत बर्ताव भी किया गया। इतना कहते हुए वे रो पड़ी। घोष ने कहा कि पश्चिमी मेदिनीपुर जिले के चंखरवाली में उनके पोलिंग एजेंट को मतदान केंद्र के अंदर ही नहीं घुसने दिया गाय। भारती ने कहा कि टीएमसी की समर्थक महिलाओं ने बूथ के दरवाजे पर एक साथ खड़े होकर मानव श्रृंखला बनाकर मुझे और मेरे एजेंट को अंदर घुसने से रोक दिया। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि जब ये सब हो रहा था तो पुलिस भी मूकदर्शक बनकर तमाशा देख रही थी। घोष ने ऐसी हरकत करने वाले खिलाफ कार्रवाई और उनकी गिरफ्तारी की मांग भी की है।
धर्मेंद्र का बड़ा बयान, पहले पता होता कि सनी का मुकाबल जाखड़ से है तो मैं लड़ने से मना कर देता
इनसे है भारती का मुकाबलादरअसल पश्चिम बंगाल में इस बार मुकाबला सीधे तौर पर टीएमसी और भाजपा के बीच का बताया जा रहा है। वहीं भारती घोष की बात करें तो उनका मुकाबला टीएमसी के प्रत्याशी दीपक अधिकारी से है। हालांकि उनके सामने कांग्रेस ने भी अपना उम्मीदवार मोहम्मद सफीउल्लाह को खड़ा किया है, जो उनके लिए चुनौती है।