फारूक अब्दुल्ला की चुनौती- हिम्मत है तो मोदी सरकार छू कर दिखाएं अनुच्छेद 370

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव से पहले एकबार फिर संविधान के अनुच्छेद 370 पर राजनीति तेज होती दिख रही है। आए दिन जम्मू कश्मीर के नेता 370 पर बयानबाजी कर रहे हैं। इसी क्रम में नेशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला का बयान आया है। मंगलवार को उन्होंने मोदी सरकार को संविधान के अनुच्छेदों 370 और 35 ए को ‘छूकर दिखाने’ की चुनौती दी। इन अनुच्छेदों से राज्य को विशेष राज्य का दर्जा मिलता है।
‘…तो भारत के साथ खत्म हो जाएगा JK का विलय’
जम्मू कश्मीर के पूर्व सीएम गांदरबल शहर में एक चुनावी जनसभा को संबोधित कर रहे थे। अब्दुल्ला ने कहा कि जिस समय वे अनुच्छेद 370 और 35 ए से छेड़छाड़ करेंगे, भारत के साथ जम्मू एवं कश्मीर का विलय समाप्त हो जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि अगर ये अनुच्छेद अस्थायी हैं, तो जम्मू एवं कश्मीर और भारत का विलय भी अस्थायी है।
कांग्रेस जो 70 साल में नहीं कर पाई, वे सब 5 साल में करने का दावा कैसे कर दूं: पीएम मोदी
मोदी जैसा अभिनेता नहीं देखा: फारूक अब्दुल्ला
फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि बीजेपी नेता अमित शाह और अरुण जेटली ने कहा है कि वे अनुच्छेद 35ए और 370 समाप्त कर देंगे, उन्हें ऐसा करने दीजिए। हम देखेंगे कि वे ऐसा कैसे करते हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला करते हुए अब्दुल्ला ने कहा कि मोदी ही एकमात्र व्यक्ति नहीं हैं जो देश चला सकते हैं। वह एक अभिनेता हैं। मैंने अबतक उनके जैसा अभिनेता नहीं देखा।
‘जम्मू-कश्मीर का हो अलग प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति’
इससे पहले उमर अब्दुल्ला ने कहा था कि बाकी रियासत बिना शर्त के देश में मिले, पर हमने कहा कि हमारी अपनी पहचान होगी, अपना संविधान होगा। हमने उस वक्त अपने ‘सदर-ए-रियासत’ (राष्ट्रपति) और ‘वजीर-ए-आजम’ (प्रधानमंत्री) भी रखा था, इंशाअल्लाह उसको भी हम वापस ले आएंगे।