प्रियंका के  हैं सपने तीन, ‘शिक्षा, चिकित्सा और रोजगार से बदलना चाहती हैं देश की तकदीर’

नई दिल्ली। देश में चुनावी सरगर्मी के साथ वादों और दावों का सिलसिला भी शुरू हो चुका है। चुनावी सभाओं के दौरान नेतागण जनता से एक से बढ़कर एक लोकलुभावन वादे कर रहे हैं। कुछ नेता देश को लेकर बड़े-बड़े सपने भी देख रहे हैं। इसी कड़ी में कांग्रेस महासिचव प्रियंका गांधी ने अपने सपनों के बारे में देश की जनता से खुलकर बात की है। कांग्रेस महासचिव ने कहा कि उनके तीन सपने हैं, जिन्हें वो साकार करना चाहती हैं।
पढ़ें- ‘सिर्फ अमीरों को गले लगाते हैं पीएम मोदी, ग्रामीण इलाकों में जाने का वक्त तक नहीं’
पढ़ें- प्रियंका का पीएम पर ‘प्रहार’, ‘मोदी सरकार का दिल काला, अमीरों के होते हैं चौकीदार’
प्रियंका के सपने
प्रियंका गांधी उत्तर प्रदेश में कांग्रेस की नैया पार कराने में जुटी हुई हैं। इसके लिए वो लगातार यूपी में घूम-घूमकर वहां की जनता से मुलाकात कर रही हैं। साथ ही लोगों से कांग्रेस को वोट देने की अपील कर रही हैं। इसी कड़ी में कांग्रेस महासचिव अयोध्या पहुंची। यहां उन्होंने युवाओं, महिलाओं और छात्रों से संवाद किया। प्रियंका ने कहा कि उनके तीन ही सपने हैं, जिन्हें वो साकार करना चाहती हैं। कांग्रेस नेत्री ने कहा कि शिक्षा, चिकित्सा और रोजगार से वह देश की तकदीर बदलना चाहती हैं। प्रिंयका का कहना था कि जब तक देश में यह तीनों चीजें नहीं होंगी, तब तक संपूर्ण विकास नहीं हो सकता।
पढ़ें- प्रियंका के ‘मन’ में बसे ‘विश्वनाथ’, काशी को अपना ‘सियासी अखाड़ा’ बनाने को तैयार कांग्रेस महासचिव!
पढ़ें- राम जन्मभूमि पर प्रियंका की ‘गुगली’, इस तरह भाजपा को किया ‘क्लीन बोल्ड
वहीं, जब प्रियंका गांधी से यह सवाल किया गया कि देश में लगातार शिक्षित बेरोजगारी बढ़ रही है। इस पर प्रियंका गांधी ने कहा कि इस मामले को लेकर कांग्रेस पार्टी बेहद गंभीर है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में रोजगार देने की समुचित व्यवस्था की है।