पीएम मोदी: देश की सुरक्षा को जमीन-हवा-अंतरिक्ष कहीं से भी हो खतरा, करेंगे कड़ी कार्रवाई

चंडीगढ़। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को हरियाणा के रोहतक में आयोजित चुनावी जनसभा के बाद एक इंटरव्यू में कहा कि अगर वह दोबारा सत्ता में आते हैं, तो उनकी सरकार पुलवामा आतंकी हमले की ही तरह आतंकियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करेगी।
जब पीएम मोदी (PM Modi) से पूछा गया कि जैसे उनकी सरकार ने हाल ही में मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी की सूची में डालने के प्रयास किए क्या वह ऐसी ही कार्रवाई दाऊद इब्राहिम और हाफिज सईद के खिलाफ भी करेंगे? इसके जवाब में पीएम मोदी ने कहा, “नाम लेकर अपना वक्त मत बर्बाद कीजिए। अगर देश के सामने कोई खतरा आता है, तो कोई फर्क नहीं पड़ता कि यह- जमीन, हवा या फिर अंतरिक्ष- कहीं पर भी पर भी हो, हमनें कार्रवाई की है और हम कार्रवाई करते रहेंगे।”
वह गुरुजी जिनका पीएम मोदी कुछ नहीं कर सकते, आठ बार के सांसद
उन्होंने आगे कहा वह आतंक या राष्ट्रीय सुरक्षा के खिलाफ किसी भी खतरे के खिलाफ कार्रवाई करना जारी रखेंगे। गौरतलब है कि बीते 1 मई को भारत ने बड़ी रणनीतिक जीत हासिल करते हुए जैश-ए-मोहम्मद के मुखिया मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी के रूप में सूचीबद्ध करा दिया।

pm modi on if action will be taken against Hafiz Saeed & Dawood Ibrahim like Masood Azahar, if BJP comes back to power: Don’t take names of individuals, any threat to nation, be it by people or system, whether it’s on land, sky or in space, BJP is bound to protect India & Indians pic.twitter.com/Hn166VqO2p— ANI (@ANI) May 10, 2019

यह सफलता पुलवामा आतंकी हमले के बाद मसूद को ब्लैक लिस्ट कराने के ताजा प्रस्ताव में चीन द्वारा पहले से लगाए गए तकनीकी अड़ंगे को हटाने पर मिली है। जम्मू के पुलवामा में बीते 14 फरवरी को सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आतंकी हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे।
बता दें कि बीते 10 साल में चार बार ऐसा हुआ है जब मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित करने के भारत के प्रस्ताव पर चीन ने अड़ंगा लगाया था। ताजा मामले में व्यापक आलोचना के बाद चीन ने मसूद को ब्लैक लिस्ट करने की राह में लगाए अपने रोड़े को हटा लिया था।
वो 10 राजनेता जो आजतक कोई भी लोकसभा चुनाव नहीं हारे
इससे पहले जनसभा के दौरान सिख दंगों का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि कल कांग्रेस के बड़े नेताओं में से एक ने कहा कि 1984 का सिख दंगा “हुआ तो हुआ”। यह राजीव गांधी के अच्छे मित्र और राहुल के गुरु हैं, इनके लिए जीवन का कोई मूल्य नहीं है। जहां सैकड़ों सिखों पर पेट्रोल डालकर जला दिया, गले में टायर डालकर आग लगा दी। …और कांग्रेस कह रही है कि “हुआ तो हुआ”।
Indian Politics से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..
Lok sabha election Result 2019 से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए Download patrika Hindi News App.