पंजाब CM अमरिंदर सिंह का बड़ा बयान, ‘चुनाव नहीं जिताने वाले मंत्रियों की होगी कैबिनेट से छुट्टी’

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव (Loksabha Election) में जीत के लिए सभी पार्टियों ने पूरी ताकत झोंक दी है। धुंआधार प्रचार-प्रसार जारी है और लोकलुभावन वादे भी किए जा रहे हैं। लेकिन, इसी बीच चुनाव में जीत के लिए पंजाब (Punjab) के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Captain Amarinder Singh) ने बड़ी घोषणा की है। उन्होंने साफ कहा है कि जो भी मंत्री क्षेत्र में जीत नहीं दिलवाएंगे, उनकी कैबिनेट से छुट्टी कर दी जाएगी।
अमरिंदर सिंह की चेतावनी
पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने अपने नेताओं और मंत्रियों को खुली चेतावनी देते हुए कहा कि हर हाल में लोकसभा चुनाव जीतना है। उन्होंने लिखित बयान में अपने मंत्रियों, नेताओं और विधायकों से कहा है कि वह पार्टी को अपने-अपने इलाके में जितवाएं, अगर ऐसा नहीं होता है तो उन्हें मंत्री पद से हाथ धोना पड़ सकता है। इससे साफ स्पष्ट है कि चुनाव में परफॉर्मेंस के आधार पर ही मंत्रियों का भविष्य तय किया जाएगा। वहीं विधायकों को कहा गया है कि जिस MLA के क्षेत्र में वोट कम हुए, उनको अगले विधानसभा चुनाव में टिकट नहीं दिया जाएगा। इतना ही नहीं पंजाब सरकार में चैयरमेन पद भी लोकसभा चुनावों में प्रदर्शन के आधार पर मिलेगा। अमरिंदर सिंह के इस बयान से पंजाब में सिसासी हलचल तेज हो गई है। मुख्यमंत्री की तरफ से इस बयान का मकसद परफॉर्मेंस बेस्ड कल्चर को पार्टी में बढ़ावा देना है।
 

Punjab CM & Congress leader Captain Amarinder Singh: As per the high command’s decision, incumbent ministers in Punjab who do not succeed in ensuring a victory for the Congress, specially from the constituencies they represent, will be dropped from the cabinet. (file pic) pic.twitter.com/ildVZej0xO— ANI (@ANI) April 24, 2019

त्रिकोणीय है पंजाब में मुकाबला
गौरतलब है कि पंजाब में कुल 13 सीटों पर लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण यानी 12 मई को मतदान होगा। पंजाब में इस बार कांग्रेस, आम आदमी पार्टी, भाजपा- शिरोमणि अकाली दल के बीच त्रिकोणीय मुकाबला है। अब देखना यह है कि अमरिंदर सिंह के इस बयान से कांग्रेस फार्टी को चुनाव में फायदा होता है या फिर परिणाम कुछ और होगा।