पंजाब में बढ़ सकती है राहुल गांधी की मुश्किल, पूर्व केंद्रीय मंत्री ने खत के जरिये उठाए सवाल

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव के बीच राजनीतिक दलों के लिए पार्टी के नेता और कार्यकर्ताओं में उत्साह भरना बहुत जरूरी होता है, लेकिन टिकटों की घोषणा के साथ पार्टियों में असंतोष बढ़ना शुरू हो जाता है जो हर दल के लिए मुश्किल हो जाता है। कुछ ऐसा ही असंतोष कांग्रेस को पंजाब में देखना पड़ रहा है। यहां पार्टी वरिष्ठ नेता ने राहुल गांधी को खुला खत लिखकर बड़ी बात कह दी है।
दरअसल कांग्रेस से पूर्व केंद्रीय राज्य मंत्री संतोष चौधरी का टिकट कटने का दर्द एक बार फिर छलका है। संतोष चौधरी ने कांग्रेस अध्यक्ष को चिट्ठी लिख अपना दर्द बयां किया है। संतोष ने लिखा है कि ‘राहुल जी वफादार कार्यकर्ता की निष्ठा दौलत से न तोलें’। चौधरी ने खत में अपने अब तक के कामों का जिक्र भी किया है साथ ही उन्होंने ये भी लिखा है कि 2009 में उन्हें टिकट दिया तो वे जीत कर आई थीं। लेकिन कुछ स्वार्थी लोगों की वजह से इस बार उन्हें टिकट नहीं दिया मिला।
संतोष चौधरी का ये असंतोष पार्टी के लिए मुश्किल खड़ी कर सकता है। 19 मई को पंजाब में 13 सीटों पर लोकसभा चुनाव होने हैं। ऐसे में कांग्रेस यहां प्रचार की तैयारी में जुटी है और इस बीच संतोष चौधरी का ये दर्द पार्टी के लिए नई मुसीबत बनकर सामने आया है।
पहले भी छलक चुका दर्दसंतोष चौधरी का दर्द टिकटों की घोषणा के वक्त भी छलक चुका है। उस वक्त में प्रेसवार्ता के समय ही संतोष रोने लगी थीं। हालांकि उन्होंने निर्दलीय लड़ने का मन बना लिया है। लेकिन रह रह कर उनके अंदर कांग्रेस में अनदेखी को लेकर टीस उठ रही है। यही वजह है कि संतोष ने राहुल गांधी को चिट्ठी के जरिये अपनी पीड़ा जाहिर की।