धारा 370 पर गृह मंत्री राजनाथ सिंह का बड़ा बयान, बोल- इसे खत्म करना ही एक मात्र विकल्प

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी ने सोमवार को लोकसभा चुनाव 2019 को लेकर अपना संकल्प पत्र यानी घोषणा पत्र जारी किया। इसमें कई नए वादे किए गए और कई पुराने वादे को ही दोहराया गया है। जिन वादों को दोहराया गया है उनमें से जम्मू-कश्मीर से धारा 370 को खत्म करना और राम मंदिर निर्माण का वादा सबसे प्रमुख है। धारा 370 के संदर्भ में केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने एक बार फिर से बयान देते हुए कहा है कि केंद्र में फिर से एनडीए की सरकार बनने पर जम्मू-कश्मीर से धारा 370 को खत्म किया जाएगा। हालांकि पिछले चुनाव में भी यही वादा किया गया था, लेकिन इसे पूरा नहीं किया जा सका और आज घाटी में हालात ऐसे हैं कि स्थानीय राजनीतिक दल खुलेआम धमकी दे रहे हैं, यदि जम्मू-कश्मीर से धारा 370 को हटाया गया तो कश्मीर अलग रास्ता चुनने के लिए स्वतंत्र होगा।
 बीजेपी के संकल्प पत्र पर महबूबा की चेतावनी, अनुच्छेद 370 हटा तो जम्मू कश्मीर ही नहीं पूरा देश जलेगा
विपक्षी दलों पर जमकर बरसे राजनाथ सिंह
बता दें कि केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने सोमवार को कहा कि संविधान के अनुच्छेद 370 और 35ए को खत्म करने के अलावा सरकार के पास कोई और विकल्प नहीं बचा है, क्योंकि जम्मू एवं कश्मीर के कुछ लोग एक अलग प्रधानमंत्री की मांग कर रहे हैं। सिंह ने रणबीर सिंह पुरा में एक चुनावी रैली में कहा- एक नेता कहते हैं कि यदि जम्मू एवं कश्मीर में यही स्थिति जारी रही तो भारत में दो प्रधानमंत्री होंगे। यदि कोई दो प्रधानमंत्रियों के बारे में बात करता है, तो हमारे पास भी अनुच्छेद 370 और 35ए को खत्म करने के सिवा दूसरा विकल्प नहीं है। उन्होंने आगे कहा कि गृहमंत्री के रूप में कश्मीर के लोगों से बातचीत करने की अपनी सर्वश्रेष्ठ कोशिश की, लेकिन सारे प्रयास बेकार साबित हुए। मैं अलगाववादियों से भी बातचीत करने को तैयार था। लेकिन अब बहुत हो चुका। मालूम हो कि पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने कहा था कि धारा 370 हटाने पर जम्मू-कश्मीर में अलग प्रधानमंत्री होना चाहिए। इसके साथ ही महबूबा मुफ्ती ने भी कहा था कि यदि 370 को हटाया गया तो कश्मीर के लोग भारत से अलग होने को मजबूर होंगे। इसलिए भाजपा आग से खेलना बंद करे।
 
Read the Latest India news hindi on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले India news पत्रिका डॉट कॉम पर.