जगदीश मुखी बने मिजोरम के 19वें राज्यपाल, प्रमुख न्यायाधीश ने दिलाई पद और गोपनीयता की शपथ

नई दिल्ली। मिजोरम के राज्यपाल के. राजशेखरन के इस्तीफे के बाद प्रो. जगदीश मुखी ने राज्य के 19 राज्यपाल पद की शपथ ली है। बता दें कि मुखी असम के राज्यपाल हैं और उन्हें शेखरन के इस्तीफे के बाद मिजोरम का अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया है।
सादा समारोह में ली शपथ
मुखी ने राजभवन में आयोजित एक सादा समारोह के दौरान मिजोरम के राज्यपाल के रूप में शपथ ग्रहण की। उन्हें गौहाटी उच्च न्यायालय के न्यायाधीश न्यायमूर्ति नेल्सन सैलो ने शपथ दिलाई। वहीं, इससे पहले के. राजशेखरन ने शुक्रवार को अपना इस्तीफा सौंपा था, जिसे राष्ट्रपति कोविंद ने स्वीकार कर अगले राज्यपाल चुनने की घोषणा की थी। आपको बता दें कि इस्तीफे के बाद राजशेखरन के केरल की राजनीति में लौटने के संकेत मिल रहे हैं।
 

Prof. Jagdish Mukhi sworn-in as the 19th governor of Mizoram , in addition to his own duties as the Governor of Assam . He succeeded Kummanam Rajasekharan as the Governor of Mizoram, after the latter resigned yesterday. pic.twitter.com/axNHyVATqJ— ANI (@ANI) March 9, 2019

2018 के मई में के राजशेखरन ने संभाला था पद
इससे पहले राजशेखरन ने आइजोल के राजभवन में सर्कुलर लॉन में सीआरपीएफ के शहीग को जवानो को श्रद्धांजलि दी थी। एक सादे समारोह में राज्यपाल ने उनके लिए प्रार्थना करते हुए कहा कि बहादुर सैनिक ऐसे योद्धा थे जिन्होंने देश और लोगों के लिए अपना जीवन दांव पर लगा दिया। गौरतलब है कि राजशेखरन बीते साल 2018 के मई में अपना पद संभाला था। राष्ट्रपति ने ओडिशा के राज्यपाल प्रोफेसर गणेशी लाल के साथ उनकी नियुक्ति की थी। उस वक्त राजशेखरन केरल भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष थे।