चुनाव की तारीखों के ऐलान से पहले आप ने उठाए सवाल, उमर ने किया स्वागत

नई दिल्ली। भारत के चुनाव आयोग द्वारा रविवार को आगामी लोकसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान किए जाने की संभावना है क्योंकि आयोग ने शाम के समय संवाददाता सम्मलेन बुलाया है। आयोग के मुताबिक, संवाददाता सम्मेलन शाम पांच बजे विज्ञान भवन के प्लेनरी हॉल में होगा। आयोग ने शनिवार को कई चरणों वाले चुनावों की तैयारियों के संबंध में एक समीक्षा बैठक की थी। 2014 के लोकसभा चुनावों के कार्यक्रम की घोषणा उस वर्ष 5 मार्च को की गई थी। चुनाव की घोषणा की तारीख से आदर्श आचार संहिता लागू हो जाएगी। वहीं, चुनाव आयोग के प्रेस कॉन्फ्रेंस से पहले सियासी दलों की प्रतिक्रियाएं आनी शुरू हो गईं हैं।
फिर उजागर हुई लालू के परिवार की कलह, राजद की अहम बैठक से गायब रहे तेज प्रताप
 

क्या चुनाव आयोग भाजपा कार्यालय से संचालित होता है?2014 में 5 मार्च को चुनाव की घोषणा हुई,5 दिनो में मोदी जी ने कई रैली, सभा कर लिया, आज ग़ाज़ीयाबाद का भाषण के बाद चुनाव की घोषणा,आचार सहिता के बाद पोस्टर तो उतारने ही पड़ेंगे अब आप कह रहे हैं भाजपा सेना के शौर्य का इस्तेमाल न करें— Sanjay Singh AAP (@SanjayAzadSln) March 10, 2019

दिल्ली: सोनिया और शीला दीक्षित के बीच मुलाकात, आप से गठबंधन को लेकर चर्चा!
आप नेता संजय सिंह ने ट्विटर पर लिखा क्या चुनाव आयोग भाजपा कार्यालय से संचालित होता है? 2014 में 5 मार्च को चुनाव की घोषणा हुई, 5 दिनो में मोदी जी ने कई रैली, सभा कर लिया, आज गाजियाबाद के भाषण के बाद चुनाव की घोषणा,आचार सहिता के बाद पोस्टर तो उतारने ही पड़ेंगे अब आप कह रहे हैं भाजपा सेना के शौर्य का इस्तेमाल न करें।
 
 

The wait ends as done the BJP’s tax payer funded campaign spree. Bring on the dates & let’s fight the good fight.— Omar Abdullah (@OmarAbdullah) March 10, 2019

मारे गए आतंकियों को लेकर राज ठाकरे का सवाल, क्या एयर स्ट्राइक में अमित शाह थे को-पायलट?
वहीं, जम्मू-कश्मीर के पूर्व सीएम उमर अब्दुल्ला ने चुनाव आयोग की होने वाली घोषणा को लेकर खुशी का इजहार किया है। उमर ने कहा कि तारीखों का ऐलान कीजिए और अच्छी लड़ाई लड़ने दें। सूत्रों के अनुसार विज्ञान भवन में आज शाम पांच बजे होने वाली प्रेस कॉंफ्रेंस में लोकसभा और विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान हो सकता है। लोकसभा चुनाव अप्रैल-मई में 7 से 8 चरणों में कराया जा सकता है। चुनाव आयोग लोकसभा के साथ ही जम्मू-कश्मीर, सिक्किम, अरुणाचल प्रदेश, ओडिशा और आंध्रप्रदेश के विधानसभा चुनावों का भी ऐलान हो सकता है।