गोवा में कांग्रेस ने पेश किया सरकार बनाने का दावा, राज्यपाल को चिट्ठी भेज कहा- पर्रिकर के पास बहुमत नहीं

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव से पहले गोवा में सियासी भूचाल आता दिख रहा है। कांग्रेस ने राज्यपाल मृदुला सिन्हा को खत लिखकर सरकार बनाने का दावा पेश किया है। राज्यपाल को लिखे खत में कहा गया है कि बीजेपी के नेतृत्व वाली सरकार को तुरंत बर्खास्त कर देना चाहिए, क्योंकि मनोहर पर्रिकर सरकार अल्पमत में है।
– गोवा बीजेपी ने अपने सभी विधायकों को तुरंत प्रदेश कार्यालय पर बैठक के लिए बुलाया है।

Congress stakes claim to form government in Goa; writes to Governor to dismiss BJP-led govt which is in “minority” & call “single-largest party Congress to form govt”.Also states in its letter, “any attempt to bring Goa under President’s rule will be illegal & will be challenged” pic.twitter.com/EZ125NRO0a— ANI (@ANI) March 16, 2019

हमें दें सरकार बनाने का मौका: गोवा कांग्रेस
कांग्रेस का आरोप है कि गोवा की राज्यपाल संविधान की हत्या कर रही हैं। अगर वह कांग्रेस पार्टी को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित करती हैं तो उनकी गलती सुधर सकती है। राज्यपाल हमें सरकार बनाने का मौका दें, क्योंकि कांग्रेस गोवा की सबसे बड़ी पार्टी है। साथ ही कांग्रेस ने कहा है कि अगर राज्यपाल ने राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाने की कोशिश की तो उसे चुनौती दी जाएगी।
बहुमत खो चुकी है पर्रिकर सरकार: कांग्रेस
राज्यपाल को संबोधित पत्र में नेता प्रतिपक्ष चंद्रकांत कावलेकर ने कहा कि पर्रिकर के नेतृत्ववाली सरकार अल्पमत में है और इसके विधायकों की संख्या और घट सकती है। उन्होंने BJP के नेतृत्व वाले गठबंधन सरकार को बर्खास्त करने और विधानसभा में सबसे बड़ी पार्टी कांग्रेस को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित करने की मांग की। कावलेकर ने कहा कि प्रसंगवश बीजेपी के दिवंगत विधायक फ्रांसिस डिसूजा की याद आती है, जिन्होंने विनम्रतापूर्वक कहा था कि मनोहर पर्रिकर के नेतृत्ववाली बीजेपी सरकार लोगों का विश्वास पूरी तरह खो चुकी है। अब सदन में भी संख्याबल खो चुकी है।
राज्यपाल को कांग्रेस ने याद दिलाया कर्तव्य
अनुरोध है कि ऐसी अल्पमत सरकार को इस समय सत्ता में बने रहने की अनुमति न दें। उन्होंने लिखा कि हमारा यह भी अनुमान है कि बीजेपी विधायकों की संख्या गिनती में और कम पड़ेगी। इसलिए आपका कर्तव्य बनता है कि बीजेपी के नेतृत्ववाली सरकार को बर्खास्त कर यह सुनिश्चित करें कि इस समय सदन में बहुमत रखनेवाली सबसे बड़ी पार्टी इंडियन नेशनल कांग्रेस को सरकार गठन के लिए आमंत्रित किया जाए।
गोवा का सियासी गणितगोवा विधानसभा के 40 सदस्य हैं। इसमें 14 विधायकों के साथ कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी है। वहीं 13 विधायकों वाली बीजेपी दूसरी सबसे बड़ी पार्टी है। बीजेपी ने राज्य में सरकार बनाने के लिए महाराष्ट्रवादी गोमंतक पार्टी के 3, गोवा फार्वड पार्टी के 3 और 2 निर्दलीय विधायकों का सर्मथन हासिल किया है।