गुजरात हाईकोर्ट के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती देंगे हार्दिक पटेल, सोमवार को कर सकते हैं अपील

नई दिल्ली। गुजरात हाईकोर्ट के फैसले को कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल सुप्रीम कोर्ट में चुनौती देने की तैयारी में हैं। दरअसल हाईकोर्ट ने पटेल की वह याचिका खारिज कर दी थी, जिसमें उन्होंने एक निचली अदालत द्वारा दोषी ठहराए जाने के आदेश को स्थगित करने की मांग की थी, ताकि वह लोकसभा चुनाव लड़ सकें।
4 अप्रैल से पहले करेंगे सुनवाई की अपील
खबर है कि हार्दिक सोमवार को सर्वोच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाएंगे। क्योंकि 4 अप्रैल को गुजरात में लोकसभा चुनाव के लिए नामांकन की आखिरी तारीख है। ऐसे में वे कोर्ट से अर्जी पर तुरंत सुनवाई के लिए अपील कर सकते हैं। कांग्रेस ने हार्दिक को जामनगर लोकसभा सीट से उम्मीदवार बनाने की योजना बनाई थी।अनुच्छेद 370 खत्म हुआ तो जम्मू कश्मीर से भारत का रिश्ता भी खत्म हो जाएगा: महबूबा लोकसभा चुनाव नहीं लड़ सकेंगे हार्दिक
बता दें कि शुक्रवार को गुजरात हाईकोर्ट के जस्टिस अब्दुल्लामिया उरैजी ने हार्दिक की वह याचिका खारिज कर दी, जिसमें उन्होंने मेहसाणा अदालत के उस आदेश को स्थगित करने की मांग की थी, जिसमें उन्हें विसनागढ़ में पटेल आंदोलन 2015 के दौरान आगजनी और बलबा करने के एक मामले में दोषी ठहराया था। मेहसाणा अदालत ने पिछले वर्ष दो साल कारावास की सजा सुनाई थी। हार्दिक तभी से दोषी हैं, और सर्वोच्च न्यायालय के एक आदेश के अनुसार वह तबतक चुनाव नहीं लड़ सकते, जबतक उच्च न्यायालय उन्हें दोषी ठहराए जाने के आदेश को स्थगित नहीं कर देता।
हार्दिक पटेल 12 मार्च को गांधीनगर में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की उपस्थिति में कांग्रेस में शामिल हो गए थे।