गुजरात में बोले पीएम मोदी- 40 साल तक सह लिया आतंक लेकिन अब घर में घुसकर मारेंगे

नई दिल्ली। पाकिस्तान में भारतीय वायुसेना की एयर स्ट्राइक पर सवालिया निशान लगाने वालों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जमकर बरसे हैं। दो दिन के गुजरात दौरे पर गए पीएम मोदी ने सोमवार की शाम अहमदाबाद में मेट्रो का उद्घाटन किया। इस दौरान पीएम ने एक रैली को भी संबोधित किया। इस रैली में पीएम ने कहा कि देश की सुरक्षा मुद्दों पर विवाद नहीं होना चाहिए।
सेना का मनोबल मत तोड़ो: मोदी
प्रधानमंत्री ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि अगर आप वीर जवानों का मनोबल बढ़ा नहीं सकते हैं, तो कम से कम एयर स्ट्राइक के सबूत मांगकर उनका मनोबल तोड़ने का काम भी मत कीजिए। आपको करना है तो मेरी सरकार की आलोचना करो, मेरी योजनाओं पर बहस करो, लेकिन भारतीय सेना को बख्श दो। उसपर कोई बहस और विवाद नहीं होना चाहिए।
पाकिस्तान ने फिर तोड़ा सीजफायर: अखनूर के बाद पुंछ सेक्टर में की गोलीबारी, भारत ने दिया मुंहतोड़ जवाब
अब हम घर में घुसकर मारेंगे: मोदी
पीएम ने कहा कि भारत 40 साल से आतंकवाद से ग्रस्त है, लेकिन अब नहीं सहेगा। मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि अब अगर किसी ने भी हिमाकत की, तो हम घर में घुसेंगे भी और मारेंगे भी। हमारी फितरत चुन-चुनकर हिसाब करने की है, इसलिए देश हित में हर जरूरी कदम उठाऊंगा।

PM Modi in Ahmedabad, Gujarat: Main aaj Ahmedabad ki dharti pe aaya hoon, civil hospital mein aaya hoon, vo drishya((2008 blasts) nahi bhul sakta hoon. Main aapko kehna chahunga, saatve pataal mein bhi honge unko(terrorists) main chhodne wala nahi hoon. pic.twitter.com/NTrW8vUGlR— ANI (@ANI) March 4, 2019

‘रफाल होता तो, परिणाम कुछ और होता’
इससे पहले जामनगर में भी पीएम ने रैली को संबोधित किया। यहां भी उन्होंने रफाल और एयर स्ट्राइक को लेकर हो रही राजनीति पर कांग्रेस को घेरा था। उन्होंने कहा कि अगर भारतीय वायुसेना के पास आज रफाल होता तो परिस्थितियां अलग होतीं। इससे इस तरफ कोई शहीद नहीं होता और दूसरी तरफ कोई नहीं बचता, लेकिन कुछ लोग इसे समझने की स्थिति में नहीं हैं। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि जब भी मैं ऐसा कहता हूं वे (विपक्षी) वायुसेना की स्ट्राइक पर सवाल उठाते हैं। क्या मुझे मिलाकर सभी को बिना प्रश्न उठाए हमारे सशस्त्र बलों पर भरोसा नहीं करना चाहिए? हमें हमारे सशस्त्र बलों पर गर्व करना चाहिए।