कमल हसन के बाद अब ओवैसी की नाथूराम गोडसे पर टिप्पणी, कहा- जिसने राष्ट्रपिता को मारा वो आंतकी

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव 2019 के सियासी सरगर्मी के बीच नाथूराम गोडसे का नाम लेकर बयानबाजियां तेज हो गई हैं। अभिनेता कमल हसन के बाद अब एआईएमआईएम (AIMIM) प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी (Asaddudin Owasi) ने भी इस पर टिप्पणी की है। मंगलवार को इस विवाद पर बोलते हुए उन्होंने सवाल खड़ा किया कि महात्मा गांधी के हत्यारे के लिए कौन सा शब्द इस्तेमाल किया जाना चाहिए?
ओवैसी ने किया कमल हसन के बयान का बचाव
दरअसल, हाल ही में कमल हसन ने एक चुनावी रैली के दौरान नाथूराम गोडसे को आजाद भारत का पहला आंतकवादी बताया था। इसके साथ ही उन्होंने कहा था कि स्वतंत्र भारत का पहला आतंकी एक हिंदू था। इस बयान पर विपक्ष ने उन्हें जमकर घेरा था। अब ओवैसी ने उनके इस बयान का बचाव किया है करते हुए कहा कि गोडसे को आतंकी ही कहा जाना चाहिए।
यह भी पढ़ें- पीएम नरेंद्र मोदी की ‘निजी यात्राओं’ के लिए इस्तेमाल हुए IAF के प्लेन, भुगतान हुआ सरकारी रेट पर
जिसने राष्ट्रपिता को मारा वो आतंकी ही हैं: ओवैसी
सवाल पूछने के अंदाज में ओवैसी ने कहा कि, ‘राष्ट्रपिता की हत्या करनेवाला कौन था?’ एक टीवी चैनल से बात करते हुए ओवैसी ने कहा,’राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को जिसने मारा…जिसने उनके सीने पर गोली चलाई, उसे आप क्या बोलेंगे? महात्मा, राक्षस, आतंकी या फिर कुछ और…। जिसने साजिश रची और कपूर आयोग में जिसकी भूमिका साजिशकर्ता के रूप में सामने आई, तो उन्हें महान बोलेंगे या नीच बोलेंगे। उनको आतंकी बोलना पड़ेगा। वह आतंकी ही हैं।’ बता दें कि कमल हसन के बयान पर काफी विवाद हुआ था, अब ओवैसी की इस टिप्पणी ने आग में घी डालने का काम किया है।