‘आप’-कांग्रेस गठबंधन की फिर बंधी उम्मीद, अजय माकन, संदीप दीक्षित नहीं लड़ेंगे चुनाव

नई दिल्‍ली। मोदी सरकार को सत्ता से बेदखल करने के लिए आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के बीच दिल्‍ली में गठबंधन को लेकर ऊहापोह की स्थिति बनी हुई है। अभी तक स्‍पष्‍ट नहीं हो पाया है कि दोनों के बीच गठबंधन होगा या नहीं। इस बीच दिल्‍ली कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष अजय माकन और शीला दीक्षित के बेटे संदीप दीक्षित ने लोकसभा चुनाव लड़ने से इनकार कर दिया है। इससे पार्टी के सामने संकट और गहरा गया है। बताया जा रहा है कि नई दिल्‍ली से अर्चना डालमिया कांग्रेस की उम्‍मीदवार हो सकती हैं।
क्‍या राहुल गांधी के चुनावी ‘ट्रंप कार्ड’ का पीएम मोदी दे पाएंगे जवाब?
गठबंधन होगा या नहीं तय होने दीजिए
दूसरी तरफ आम आदमी पार्टी (आप) की विधायक अल्का लांबा ने एक ट्वीट पर अपने जवाब में कहा है कि मेरी विधानसभा कांग्रेस का गढ़ रही है। मैंने कांग्रेस की बादशाहत को आप प्रत्‍याशी के रूप में तोड़ा है। अभी आप और कांग्रेस के बीच गठबंधन को लेकर बातचीत जारी है। इसलिए अभी कुछ भी बोलने की स्थिति में नहीं हूं। पहले आप तय तो कर ले कि चाहती क्‍या है?
जानिए, कौन हैं अमित शाह के खिलाफ चुनावी समर में उतरे राहुल के भरोसेमंद सिपाही जेसी चावड़ा?
 

मेरी विधानसभा काँग्रेस का गढ़ रही है,3बार AAP इस गढ़ को तोड़ने में नाकाम रही,मैंने इसे तोड़ा।आज आप काँग्रेस से गठबंधन चाहते हैं,उसे बुरा-भला भी कह रहे हैं,आज आप के कहने पर काँग्रेस के खिलाफ़ बोलूं और कल गठबंधन होने पर उनके लिये वोट माँगूँ ?पहले AAP तय तो कर ले चाहती क्या है. https://t.co/yBQkvAbwwK— Alka Lamba (@LambaAlka) April 3, 2019

राहुल के बयान से बढ़ा सस्‍पेंस
बता दें कि मंगलवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने दिल्‍ली में गठबंधन को लेकर पूछे गए सवाल पर बयान देकर असमंजस को और बढ़ा दिया। घोषणापत्र लॉचिंग के मौके पर राहुल गांधी ने आप के साथ गठबंधन के सवाल पर सीधे उत्तर नहीं देते हुए कहा कि इस पर कोई असमंजस नहीं है। स्थिति साफ है। देश भर में हमने गठबंधन किए हैं। हमारे दरवाजे गठबंधन के लिए खुले हुए हैं। उनके इस बयान देने से ठीक पहले राहुल गांधी ने शीला दिक्षित और दिल्ली के पार्टी प्रभारी पीसी चाको के साथ बैठक भी की थी। पीसी चाको गठबंधन के पक्ष में हैं जबकि शीला दीक्षित विरोध कर रही हैं।