असदुद्दीन ओवैसी ने कहा-  मोदी सरकार को हमेशा मॉब लिंचिंग के लिए याद रखा जाएगा

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव ( Lok Sabha Election 2019 ) से पहले एकबार फिर मॉब लिंचिंग ( Mob lynching ) की घटना चर्चा में है। असम के विश्वनाथ चाराली में मुस्लिम बुजुर्ग के साथ बीफ के आरोप को लेकर हुई मारपीट पर AIMIM अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ( Asaduddin Owaisi ) ने तीखा बयान दिया है। मंगलवार को उन्होंने कहा कि पीट-पीट कर मार डालना (मॉब लिंचिंग) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ( Narendra Modi ) की विरासत है।
मोदी सरकार में सबसे ज्यादा मॉब लिंचिंग: ओवैसी
ओवैसी ने कहा कि मोदी को भारतीय इतिहास में मॉब लिंचिंग के लिए याद रखा जाएगा, क्योंकि उनके कार्यकाल में इस तरह की सबसे ज्यादा घटनाएं हुई हैं। उन्होंने आगे कहा कि ये घटनाएं हमेशा मोदी को डराएंगी, क्योंकि प्रधानमंत्री के रूप में वे इसे रोक नहीं सके।
दंतेवाड़ा: नक्सली हमले के तुरंत बाद का वीडियो आया सामने, बिखरे पड़े थे शव
पीटने वालों की रक्षा कर रही सरकार:ओवैसी
हैदराबाद संसदीय क्षेत्र से चौथी बार जीत का परचम लहरान की कोशिश कर रहे ओवैसी ने असम की घटना की निंदा की। जहां जिसमें एक मुस्लिम व्यक्ति को कथित रूप से पीटा गया और जबरदस्ती पोर्क खाने के लिए मजबूर किया गया। उन्होंने कहा कि इससे खराब क्या हो सकता है? एक राज्य में जहां गौकशी पर पाबंदी नहीं है और लोग बीफ खाते हैं, वहां 68 वर्षीय शौकत अली को बुरी तरह पीटा गया और जबरदस्ती पोर्क खाने को मजबूर किया गया। ओवैसी ने कहा कि जो उसे पीट रहे हैं, उन्हें पता है कि उनकी रक्षा की जाएगी, क्योंकि उनकी खुद की पार्टी सत्ता में है।
Indian Politics से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर