अरुणाचल प्रदेश: आम चुनाव से ठीक पहले BJP को बड़ा झटका, मंत्री समेत 14 विधायक पार्टी छोड़ NPP में शामिल

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव के लिए भाजपा ने अभी अपने उम्मीदवारों के नाम भी तय नहीं किए हैं और उससे पहले पार्टी के लिए एक बुरी खबर सामने आई है। दरअसल पूर्वोत्तर में पांव जमाने की कोशिश कर रहे भाजपा को अरुणाचल प्रदेश में बड़ा झटका लगा है। सत्ता में काबिज भाजपा के दो मंत्रियों और 12 विधायकों समेत कुल 14 नेताओं ने मंगलवार को पार्टी से इस्तीफा दे दिया और इन सभी ने नेशनल पीपुल्स पार्टी (एनपीपी) में शामिल होने की घोषणा कर दी। एनपीपी के एक वरिष्ठ नेता ने बताया कि जारपुम, जारकर, कुमार वाई और भाजपा के 12 मौजूदा विधायकों ने एनपीपी महासचिव थामस संगमा से मंगलवार को मुलाकात की और एनपीपी में शामिल होने का फैसला किया है।भाजपा को झटका, सैकड़ों नेताओं ने पार्टी छोड़ थामा सपा का दामन
11 अप्रैल को लोकसभा और विधानसभा के लिए डाले जाएंगे वोट
बता दें कि अरुणाचल प्रदेश में 11 अप्रैल को लोकसभा और विधानसभा के लिए साथ-साथ वोट डाले जाएंगे। उससे पहले मुख्यमंत्री पेमा खांडू को एक बड़ा झटका लगा है। मंगलवार को राज्य के गृह मंत्री कुमार वाई और पूर्व प्रदेश अध्यक्ष जारपुम गामलिन के अलावा पर्यटन मंत्री जारकर गामलिन जैसे बड़े चेहरों ने भाजपा का साथ छोड़ दिया। इससे पहले सोमवार को तीन विधायकों ने पार्टी छोड़ दी थी। ये सभी के सभी भाजपा छोड़ने के बाद एनपीपी में शामिल हो गए। बता दें कि पेमा खांडु अरुणाचल प्रदेश में भाजपा सरकार का प्रतिनिधत्व कर रहे हैं। मालूम हो कि अभी हाल ही में भाजपा ने 60 सीटों वाले अरुणाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए 54 उम्मीदवारों के नाम की घोषणा की थी, जिसके बाद से कई बड़े नेताओं में नाराजगी देखने को मिला था। गौरतलब है कि 2014 में हुए विधानसभा चुनाव में भाजपा ने 48, एनपीपी को 4, कांग्रेस को 6 सीटें मिली थी। इसके अलावा दो निर्दलीय उम्मीदवारों ने भी जीत दर्ज की थी। अब चुनाव से ठीक पहले पूरा समीकरण बदल बदल गया है।
 
 
Read the Latest India news hindi on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले India news पत्रिका डॉट कॉम पर.