‘अमीरों को सिर्फ गले लगाते हैं पीएम मोदी, ग्रामीण इलाकों में जाने का वक्त तक नहीं’

नई दिल्ली। देश में लोकसभा चुनाव की सरगर्मी चरम है। सत्ता पर काबिज होने के लिए पार्टियों ने दिन-रात एक कर दी है। बड़े-बड़े नेता और चर्चित चेहरे प्रचार-प्रसार के लिए मैदान में उतर चुके हैं। लेकिन, यूपी की राजनीति कुछ ज्यादा ही दिलचस्प होती जा रही है। क्योंकि, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने यहां भाजपा के खिलाफ जंग छेड़ दी है। यूपी में प्रियंका हर दिन रोड शो और चुनावी सभाएं करते हुए पीएम मोदी और भाजपा पर जमकर हमला बोल रही हैं।
यह भी पढ़ें- राजशाही परिवार के ताने पर प्रियंका का कटाक्ष, दादी इंदिरा ने ही हटाईं थी राज घरानों की सुविधाएं
प्रियंका गांधी का पीएम मोदी पर तंज, बोलीं- पाकिस्तान बिरयानी खाने कौन गया था?
प्रियंका के ‘मन’ में बसे मोदी के ‘विश्वनाथ’, काशी को अपना ‘सियासी अखाड़ा’ बनाने को तैयार कांग्रेस महासचिव!
पीएम को केवल अमीरों से प्रेम- प्रियंका
विगत दिनों में प्रियंका ने बनारस और अयोध्या में रैलियां और रोड की। इसके अलावा उन्होंने महिलाओं और युवाओं के बीच जाकर उनसे संवाद किया। संवाद के दौरान प्रियंका ने कहा कि आपके प्रधानमंत्री केवल अमीरों से मिलते हैं, उन्हे गले लगाते हैं और बधाइयां देते हैं। लेकिन, ग्रामीण इलाकों के लोगों से मिलने के लिए उनके पास वक्त तक नहीं है। कांग्रेस महासचिव ने कहा कि सत्ता में आने के बाद पीएम मोदी न तो किसी गांव में गए और न ही गरीब लोगों से मुलाकात की। अयोध्या में एक नुक्कड़ सभा में भी प्रियंका गांधी पहुंची। यहां उन्होंने लोगों से पूछा कि आखिर पीएम मोदी ने आपको क्या दिया? प्रियंका ने महिलाओं से विभिन्न समस्याओं पर चर्चाएं भी की। मुलाकात के दौरान प्रियंका ने कहा कि आपको प्रधानमंत्री के पास इतना समय नहीं है कि वो आपसे मुलाकात करें। वो केवल बड़े और अमीर लोगों से ही मिलते हैं। प्रियंका ने कहा कि आपके जीवन में कोई परिवर्तन नहीं हुआ है, यही सत्य है। वोट सोच समझकर कीजिएगा। झूठ को बढ़ावा देंगे तो बहुत नुकसान होगा। प्रियंका ने कहा देश कर्ज में डूब रहा है। यह चुनाव देश और संविधान को बचाने वाला है।
यह भी पढ़ें- माया पर ‘मेहरबान’ प्रियंका, बोलीं- बसपा सुप्रीमो को घबराने की जरूरत नहीं
राम जन्मभूमि पर प्रियंका की ‘गुगली’, इस तरह भाजपा को किया ‘क्लीन बोल्ड’
‘न्याय’ को लेकर प्रियंका का वार, उद्योगपतियों की कर्जमाफी के लिए मोदी सरकार पर कहां से आए 317 हजार करोड़