अमित शाह की पोती ने नहीं पहनी बीजेपी की टोपी, NCP ने कहा- बच्चे मन के सच्चे

नई दिल्ली। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने शनिवार को गांधीनगर लोकसभा सीट से अपना नामांकन-पत्र दाखिल कर दिया है। इससे पहले शाह और उनकी पोती का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। जिसमें शाह की गोद में मौजूद बच्ची बीजेपी की टोपी पहनने से लगातार इनकार कर रही है।
शाह पहनाते रह गए, पर पोती ने नहीं पहनी बीजेपी की टोपी
गुजरात में अपने प्रत्याशी उतार रही राजनीतिक पार्टी एनसीपी ने अब बच्ची का वीडियो शेयर कर शाह पर निशाना साधा है। पार्टी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर लिखा है कि बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह गांधीनगर संसदीय सीट से नामांकन दाखिल करने जाते हुए। इस दौरान शाह अपनी पोती को कमल छाप टोपी पहनाने की कोशिश कर रहे थे। लेकिन बच्ची ने भी दादा की कमल वाली टोपी पहनने से मना कर दिया और अपनी वही सफेद टोपी को पहनना स्वीकार किया। बच्चे मन के सच्चे।

भाजपाचे राष्ट्रीय अध्यक्ष @AmitShah गांधीनगर येथे फॉर्म भरायला जाताना अमित शाह त्यांनी कौतुकाने आपल्या नातीला @BJP4India चे कमळ असलेली टोपी घालायचा प्रयत्न केला. पण त्यांच्या नातीनेही ती टोपी नाकारली आणि आपली मूळ शुभ्र टोपीच स्वीकारली.#बच्चे_मन_के_सच्चे#chowkidaarchorhai pic.twitter.com/R0dqVl9nnG— NCP (@NCPspeaks) March 30, 2019

आडवाणी की सीट से शाह ने भरा नामांकन
बता दें कि अपना पहला लोकसभा चुनाव लड़ रहे शाह ने लोगों से प्रधानमंत्री के हाथों को मजबूत करने के लिए राज्य की सभी 26 लोकसभा सीटों पर भाजपा को जिताने का आग्रह किया। इसके साथ ही उन्होंने मोदी को ‘गुजरात का बेटा’ भी कहा। शाह के साथ केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह, अरुण जेटली और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे मौजूद थे। यहां 23 अप्रैल को मतदान होगा। नामांकन भरने से पहले बीजेपी अध्यक्ष और पार्टी के अन्य नेताओं ने नारनपुरा में लोगों को संबोधित किया और रोड शो किया। राज्यसभा सदस्य शाह इस सीट पर आडवाणी के स्थान पर चुनाव लड़ रहे हैं। आडवाणी 1998 से गांधीनगर सीट पर चुनाव जीत रहे थे। नामांकन भरने की अंतिम तिथि चार अप्रैल है।