अकाली दल को बड़ा झटका, सांसद शेर सिंह घुबाया ने पार्टी से दिया इस्तीफा

नई दिल्ली। एक तरफ पाकिस्तान और आतंकी गतिविधि को लेकर देश में तनाव बना हुआ है। वहीं, दूसरी ओर अगामी लोकसभा चुनाव को लेकर जोर-शोर से तैयारियां चल रही हैं। गठबंधन और दल-बदल का खेल भी शुरू हो चुका है। इसी कड़ी में पंजाब में भाजपा के सहयोगी दल शिरोमणि अकाली दल को चुनाव से पहले बड़ा झटका लगा है। कद्दावर नेता और सांसद शेर सिंह घुबाया ने पार्टी से अचानक इस्तीफा दे दिया है।
अकाली दल को बड़ा झटका
जानकारी के मुताबिक, लंबे समय से अकाली दल से निलंबित चल रहे सांसद शेर सिंह घुबाया ने सोमवार को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है। घुबाया को पार्टी विरोधी गतिविधियों के कारण कारण बताओ नोटिस जारी किया गया था। इसके बाद उन्हें पार्टी से निलंबित कर दिया गया था। अब घुबाया ने ही पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। हालांकि, इस मामले पर अभी तक न तो घबाया ने कोई बयान दिया है और न ही अकाली दल की ओर से कोई प्रतिक्रिया आई है। लेकिन, इस इस्तीफे से पंजाब में सियासी हलचल तेज हो गई है।
 

Punjab: Shiromani Akali Dal (SAD) MP Sher Singh Ghubaya from Ferozpur resigns from the primary membership of the party. He had already been suspended by Akali Dal. (Pic Courtesy: Lok Sabha) pic.twitter.com/BIeFNuoyQg— ANI (@ANI) March 4, 2019

पार्टी से हो चुके थे निलंबित
गौरतलब है कि पार्टी से निष्कासन से पहले घुबाया ने कहा था कि उनकी लंबे समय से सुखबीर के साथ न तो कोई मीटिंग हुई है न ही बातचीत। इतना ही नहीं घुबाया ने यहां तक कहा था कि पार्टी उन्हें किसी कार्यक्रम में नहीं बुलाती है। यहां तक कि प्रधानमंत्री की मलोट रैली में भी उन्हें न्यौता नहीं दिया गया था। जब इतनी नाराजगी थी तो उन्हें पार्टी से सस्पेंड क्यों नहीं किया जा रहा? इसके बाद उन्हें पार्टी से निलंबित कर दिया गया था।