नई दिल्‍ली। कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता और पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम ने एक बार फिर पीएम मोदी पर निशाना साधा है। उन्‍होंने कहा कि 2014 में मोदी ने खुद को चायवाला बताया था। उसके बाद वह कई बार इस बात का जिक्र कर चुके हैं कि देश की जनता द्वारा एक चायवाले को पीएम चुनने पर मैं गर्व महसूस करता हूं। लेकिन अब उन्‍होंने कहा है कि मैंने खुद को एक चायवाला कभी नहीं बताया। चिदंबरम ने पीएम से सवालिया लहजे में पूछा है कि वो देशवासियों को आखिर समझते क्‍या हैं ? क्‍या देश की जनता को पीएम मोदी भुलक्‍कड़ बीमारी से पीडि़त बेवकूफों का समूह मानते हैं?
 

In 2014 and thereafter, he said repeatedly that he is proud that the people elected a chaiwala as PM. Now he says, he never mentioned his origins as a chaiwala! What does the PM take us for? A bunch of idiots who have large memory losses?— P. Chidambaram (@PChidambaram_IN) April 28, 2019

अब कहते हैं मेरी कोई जाति नहीं
एक अन्‍य ट्वीट में चिदंबरम ने कहा कि इसी तरह मोदी ने पीएम बनने से पहले खुद की जाति ओबीसी बताई थी। उन्‍होंने ये बयान भी 2014 में दिया था। यानि चुनावी जीत हासिल करने के लिए उन्‍होंने जाति को हथियार के रूप में इस्‍तेमाल किया। अब वो कहते हैं मेरी तो कोई जाति ही नहीं है।
 

Twenty-nine months after demonetisation, if any one defends demonetisation, we can only conclude that he or she is anti-national.— P. Chidambaram (@PChidambaram_IN) April 27, 2019

नोटबंदी की तारीफ करने वाला ‘देशद्रोही’
एक दिन पहले कांग्रेस नेता चिदंबरम ने ट्वीट कर कहा था कि विमुद्रीकरण के 29 महीने बाद भी अगर कोई नोटबंदी का बचाव करता है तो हम केवल इस निष्‍कर्ष पर ही पहुंच सकते हैं कि ऐसा करने वाला व्‍यक्ति देशद्रोही है। उन्‍होंने कहा नोटबंदी ने लोगों को बेरोजगार किया। देश की अर्थव्‍यवस्‍था को बर्बाद किया। इसलिए अकेले नोटबंदी ही इतना बड़ा कारण है जिसके आधार पर भाजपा सरकार को सत्‍ता से बाहर हो जाने चाहिए। उन्‍होंने कहा कि किसी भी अर्थशास्त्री ने नोटबंदी का समर्थन नहीं किया। दुनिया भर के अर्थशास्त्रियों ने मोदी सरकार के नोटबंदी की निंदा की है।

Twenty-nine months after demonetisation, if any one defends demonetisation, we can only conclude that he or she is anti-national.— P. Chidambaram (@PChidambaram_IN) April 27, 2019

 
Indian Politics से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..Lok sabha election Result 2019 से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए Download patrika Hindi News App.